जबलपुर। नरसिंहपुर जिला मुख्यालय के गोटेगांव में सोमवार की रात बैलहाई बाजार में किसी बात को लेकर इतना विवाद बढ़ा कि मारपीट हो गई और गोलियां चल गईं। इस वारदात में दो लोग घायल हुए हैं। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है। बताया गया है कि इस घटना में केंद्रीय राज्य मंत्री प्रहलाद पटेल के पुत्र प्रबल पटेल, उनके भाई एवं नरसिंहपुर विधायक जालम सिंह पटेल के पुत्र मोनू पटेल भी शामिल था। पुलिस ने इन दोनो सहित १२ लोगों के खिलाफ हत्या के प्रयास व बलवा का मामला कायम किया है। पुलिस विवाद की वजह पुरानी रंजिश बता रही है। जबकि क्षेत्र में रंजिश की वजह अवैध उत्खनन को लेकर चर्चाओं में है।
गोटेगांव पुलिस ने बताया कि रात करीब १ बजे हिमांशु और राहुल नामक युवक एक शादी समारोह से लौट रहे थे। इसी दौरान बेलाई काम्पलेक्स के पास पहले से ही मौजूद प्रबल पटेल और उनके साथियों के साथ दोनों की किसी बात पर कहासुनी हो गई। प्रबल पटेल और उसके साथियों ने दोनों युवकों के साथ पहले मारपीट की। इसके बाद उसे मोनू पटेल के ऑफिस ले गए। यहां पर मोनू पटेल व अन्य ने भी दोनों के साथ मारपीट की।
नगर सैनिक पर भी हमला ..........
मारपीट करने के बाद सभी आरोपी दोनों युवकों को लेकर शिवम राय नामक युवक के घर पहुंचे उसको घर के बाहर बुलाकर मारने लगे। इसी दौरान शिवम के पिता नगर सैनिक ईश्वरराय बाहर आए और बेटे को बचाने का प्रयास किया तो आरोपियों ने उनके साथ मारपीट कर दी। इस पूरी घटना में दो बार गोली भी चलाई गई, जिसमें एक गोली हिमांशु के हाथ में जाकर लगी। पुलिस ने प्रबल पटेल व पुत्र मोनू पटेल सहित अन्य १२ के खिलाफ पुलिस ने धारा १४७, १४८, १४९, ३०७, ३६५, २९४, ३२३, ३२४, ४२७, ३५३. ३३३ व २५-२७ आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।