नई दिल्ली: भारत और न्यूजीलैंड की टीमें आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप (ICC World Cup) में गुरुवार को भिड़ने जा रही हैं. दोनों ही टीमें मौजूदा वर्ल्ड कप (World Cup 2019) में एक भी मैच नहीं हारी हैं. यानी, दोनों ही टीमें जीत के अपने सिलसिले को आगे बढ़ाने उतरेंगी. लेकिन दोनों ही टीमों के सामने इस मैच में दो चुनौती सामने आने वाली है. पहली तो वह टीम, जो उसके विरोध में उतरेगी. दूसरी, बारिश. जी हां, नॉटिंघम में बारिश की भविष्यवाणी की गई है. 

अब तक विश्व कप में तीन मैच बारिश से प्रभावित हो चुके हैं. इन तीन मैचों में से दो में तो एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी और तीसरा मैच शुरू तो हुआ,  लेकिन वह किसी नतीजे तक नहीं पहुंचा. अब यह भविष्य के गर्भ में है कि नॉटिंघम, जहां भारत-न्यूजीलैंड मैच होना है, वहां गुरुवार को बारिश होगी या नहीं. और अगर बारिश होगी तो कितनी होगी और कितने देर तक होगी. अगर बारिश खेल शुरू होने के बाद आई, तो उसका खेल पर क्या असर होगा. 

80% बारिश की संभावना
मौसम विभाग के मुताबिक गुरुवार को बारिश की संभावना 80% तक है. यानी, दिन में बारिश जरूर होगी. लेकिन अच्छी बात यह है कि सुबह के समय में बारिश की ज्यादा संभावना है. जैसे-जैसे दिन आगे बढ़ेगा, वैसे-वैसे इसकी संभावना कम होती जाएगी. दिन में न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस के करीब रहेगा. बता दें कि नॉटिंघम में सोमवार से ही बारिश हो रही है और बुधवार रात भी तेज बारिश हुई है. 

मौसम विभाग ने जारी की येलो वॉर्निंग 
मौसम विभाग ने तीन दिन पहले बारिश को लेकर येलो वार्निंग जारी की थी. इसमें कहा गया था कि बुधवार सुबह से बुधवार रात के बीच तेज बारिश होगी. यह भविष्यवाणी लगभग सही साबित हुई है. येलो वार्निंग का मतलब है कि बारिश तेज होगी, लेकिन इससे किसी मकान, जनहानि की क्षति की आशंका बेहद कम है. 

मोहम्मद शमी को मिल सकता है मौका
बारिश के कारण टीमों का कॉम्बिनेशन भी बदल सकता है. बारिश से पैदा हुई नमी और बादल के साए में तेज गेंदबाजों को अतिरिक्त स्विंग मिल सकता है. ऐसे में टीमें अतिरिक्त तेज गेंदबाज के साथ उतर सकती है. अगर ऐसा होता है तो भारतीय टीम युजवेंद्र चहल या कुलदीप यादव की जगह मोहम्मद शमी को मौका दे सकती है.