भोपाल। नाबालिकों के साथ होने वाली ऐसी घटनाओं से मानवता शर्मसार हुई है। भविष्य में ऐसी घटनाओं की पुर्नरावृत्ति न हो इसके लिए समाज को आगे आने की आवश्यकता है। समाज में जनजागरण आंदोलन चलाने की आवश्यकता है। ऐसी आंदोलन की शुरूआत भोपाल से होनी चाहिए। सभी संगठन मिलकर आगे बढे ओर आंदोलन को सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचाए। यह बात मंगलवार को पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने रोशनपुरा चौराहा पर आयोजित श्रद्धांजलि सभा को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि प्रदेश में जिन स्थानों पर ऐसी घटनाएं हुई है वहां जनजागरण अभियान चलाया जायेगा। 

                भाजपा जिला भोपाल द्वारा मंगलवार को नाबालिक के साथ दुष्कर्म और हत्या की घटना को लेकर पीड़िता की आत्मशांति के लिए श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। श्रद्धांजलि सभा को श्री शिवराजसिंह चौहानसाध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुरपूर्व मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता ने संबोधित किया। सभा के पश्चात श्री शिवराजसिंह चौहान ने फास्ट ट्रेक के गठन को लेकर सीजेआई को भेजे जाने वाले पोस्टकार्ड कार्यकर्ताओं को वितरित कर अभियान शुरू किया।

                श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि मासूस बेटी के साथ हुई इस घटना ने हमें झकझोर दिया है। उज्जैननौगांवभोपालजबलपुर और इंदौर में हुई ऐसी घटनाओं से समाज का विकृत चेहरा भी हमारे सामने आता है। भोपाल की घटना में प्रशासन की लापरवाही हमें स्पष्ट रूप से देखने को मिलती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में लगातार हो रही ऐसी घटनाओं की जवाबदेही से सरकार बच नही सकती। लेकिन सरकार के साथ ही समाज को भी जवाबदारी समझने की आवश्यकता है। ऐसी घटनाओं में लापरवाही करने वाले अधिकारियों पर भी आपराधिक कार्यवाही होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाओं के पीछे नशा मुख्य कारण होता है। जिसके लिए भी अभियान चलाने की जरूरत हैं। आजकल स्कूलकालेज के आसपास और बाजार में नशे के कारोबारी मौत परोस रहे है। ऐसे लोगो पर भी कार्रवाही होनी चाहिए।