मुम्बई । बीसीसीआई ने कहा है कि ऑलराउंडर युवराज सिंह को विश्व भर की टी20 लीग में खेलने के लिए अनुमति दी जा सकती है। इससे पहले युवराज ने सोमवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट और आईपीएल से संन्यास की घोषणा करते हुए कहा कि वह विदेशी लीग में खेलना चाहते हैं। युवराज ने अभी तक बीसीसीआई से टी20 लीग में खेलने की औपचारिक स्वीकृति नहीं मांगी है। वहीं इस मामले में बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘उसने अब तक बोर्ड को इस बारे में नहीं लिखा है और एक बार उसके ऐसा करने के बाद हम इस मामले पर विचार करेंगे। वह अब आईपीएल में नहीं खेलेगा, इसलिए उसे स्वीकृति नहीं देने का कोई बड़ा आधार नहीं है। उसके स्तर के संन्यास ले चुके खिलाड़ियों को भारत से बाहर खेलने की स्वीकृति मिलती रही है।’’ इसके विपरीत बीसीसीआई ने सक्रिय भारतीय खिलाड़ियों को विदेशी टी20 लीग में खेलने से प्रतिबंधित किया हुआ है और माना जा रहा है कि इसी कारण युवराज ने संन्यास लिया ताकि वह दुनिया भर की प्रतियोगिताओं में खेल सकें। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके वीरेंद्र सहवाग और जहीर खान को भी यूएई में टी10 लीग में खेलने की स्वीकृति दी गई। बीसीसीआई के एक अन्य अधिकारी ने कहा, ‘‘अगर सहवाग संन्यास के बाद विदेशों में खेल सकता है तो मुझे युवराज के ऐसा करने में कोई मुद्दा नजर नहीं आता। वह अब संन्यास ले चुका खिलाड़ी हैं और भारतीय क्रिकेट को उसका योगदान बहुमूल्य है और इसे हमेशा तवज्जो दी जानी चाहिए।’’ 
इससे पहले युवराज ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट ही नहीं बल्कि इंडियन प्रीमियर लीग को भी अलविदा कह दिया आईपीएल टी20 लीग में वह 2015 में सबसे महंगे खिलाड़ी थे पर पिछले सत्र में केवल बेस प्राइस पर ही बिके। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास के बावजूद आईपीएल में खेलते रहने की परंपरा से अलग युवराज ने कहा कि पिछले साल ही उन्होंने स्पष्ट कर लिया था कि वह इस प्रतियोगिता के साथ अपने करियर का अंत करेंगें युवराज को 2015 में दिल्ली फ्रैंचाइजी ने 16 करोड़ रुपये में खरीदा था लेकिन पिछले सत्र में मुंबई इंडियंस ने उन्हें सिर्फ एक करोड़ रुपये के बेस प्राइस पर खरीदा।
भावुक युवराज ने यहां मीडिया से कहा, ‘पिछले साल ही मैंने सोचा कि इस साल का आईपीएल मेरा आखिरी होगा। मैं आईपीएल के लिए उपलब्ध नहीं हूं। मैंने बीसीसीआई और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। मैं भारत के बाहर खेलने को लेकर उत्सुक हूं’ युवराज आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब और अब खत्म हो चुकी पुणे वॉरियर्स की कप्तानी कर चुके हैं। वह रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और सनराइजर्स हैदराबाद की ओर से भी खेले। बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने इस साल मुंबई इंडियंस की ओर से 4 मैचों में 24.50 के औसत से 98 रन बनाए जिसमें एक अर्धशतक शामिल रहा।