बेंगलुरु: केंद्रीय मंत्री डी वी सदानंद गौड़ा ने रविवार को कहा कि कर्नाटक में गठबंधन सरकार को बचाने के मकसद से मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी के नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल का बहु प्रतीक्षित विस्तार उसके गिरने के लिए ‘‘नींव का पत्थर’’ साबित होगा. उन्होंने एक सवाल के जवाब में पत्रकारों से कहा, ‘‘मुझे लगता है कि यह विस्तार सरकार के गिरने के लिए नींव का पत्थर साबित होगा. हर कोई गठबंधन में असंतोष के बारे में जानता है. मैं उनकी अंदरुनी लड़ाई या मुद्दों में नहीं जाना चाहता.’’ उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन मेरा मानना है कि सरकार को बचाने की यह कोशिश आखिरी साबित होगी.

अपने आप को बचाने का यह तरीका इस बार उन पर ही भारी पड़ेगा.’’ कुमारस्वामी ने शनिवार को घोषणा की थी कि राज्यपाल वजुभाई वाला ने नए मंत्रियों के शपथ ग्रहण के लिए 12 जून को सुबह साढ़े 11 बजे का समय तय किया है. लोकसभा चुनावों में हार और सरकार के भीतर बढ़ते असंतोष के बीच कांग्रेस-जद(एस) गठबंधन के नेताओं ने तीन खाली पदों को भरकर मंत्रिमंडल विस्तार करने का फैसला किया था.

सूत्रों के अनुसार, कुछ समय बाद मंत्रिमंडल में बदलाव पर भी विचार हो रहा है जिसमें कुछ मंत्रियों को इस्तीफा देने और अन्य लोगों खासतौर से असंतोष नेताओं के लिए रास्ता बनाने के लिए कहा जाएगा.