सलमान खान और कैटरीना कैफ  की फिल्म भारत को जबरदस्त सफलता मिली है। प्रशंसक इस फिल्म का इंतजार लंबे समय से कर रहे थे। फिल्म में खास बात यह है कि इसमें सलमान खान के कई रूप आपकों देखने को मिलेंगे। फिल्म में सलमान की जवानी से लेकर बुढ़ापे तक का सफर दिखाया गया है। फिल्म की कहान आजादी के पहले से आजादी के बाद की है। 
फिल्म में सलमान 'भारत' नाम के व्यक्ति का किरदार निभा रहे हैं। भारत की एक राशन की दुकान है, जिससे वो बहुत प्यार करते है। इसमें भारत का जब उनका जन्मदिन आता हैं तो वह अटारी के रेलवे स्टेशन पर गाड़ी के साथ दौड़कर अपना जन्मदिन का केक काटते हैं। सलमान ऐसा क्यों करते हैं इसके पीछे उनकी पुरानी कहानी हैं।  कहानी पीछे जाती है देश के बंटवारे के समय में जब भारत और पाकिस्तान का बंटवारा हुआ था। कैसे भारत आपने परिवार से बिछड़ गया। जब देश का बंटवारा हुआ तो भारत यानी सलमान के पिता और बहन पाकिस्तान में ही रह जाते हैं और सलमान भारत चले आते है लेकिन सलमान खान के पिता ने उनसे एक वादा लिया होता हैं कि वो हमेशा अपने परिवार को साथ रखेगा और उनकी देखभाल करेगा। बस इसी वादे के साथ भारत अपनी पूरी जिंदगी बिता देता है। 1947 से 2010 के सफर में सलमान खान की जिंदगी के उतार- चढ़ाव को दिखाया गया है कि कैसे वो नौसेना ऑफिसर बने और कैसे वो रुसी सर्कस में शामिल हुए ये तमाम सफर फिल्म में दिखाए गये हैं अभिनेत्री दिशा पाटनी और कैटरीना भी सलमान खान के इसी सफर में शामिल हैं।
फिल्म में सलमान की मुख्य भूमिका है। पूरी फिल्म केवल सलमान के ही आस-पास घूमती हैं। सलमान के फिल्म में कई रुप दिखाए गये हैं, बचपन से जवानी, जवानी में भी कई अवतार और जवानी से बूढ़ापे का सफर सलमान ने हर भूमिका में जान डाल दी। दिशा पाटनी ने भी रोल अच्छा निभाया हैं, पीली साड़ी में उनका गाया और डांस दोनों जबरदस्त हैं। कटरीना ने भी फिल्म में अच्छी एक्टिंग की है। इस फिल्म के लिए लगता हैं कैट ने हिंदी की क्लास ली है। फिल्म में कई छोटे- छोटे रोल में कमेडियन सुनील ग्रोवर ने हंसी का तड़का लगाया हैं। सतीश कौशिक और जैकी श्रॉफ भी फिल्म की कड़ी हैं। फिल्म की सिनेमेटोग्राफी को काफी बेहतरीन तरीके से किया गया है। विशाल-शेखर ने फिल्म में अच्छा संगीत दिया है।