बिलासपुर । कोटा थाना क्षेत्र के ग्रामीण अंचल लमेर से ईट भरकर ग्रामीण बिलासपुर रात में गए। जहां पर खाली कर लौटते वक्त घुटकू के पास पहुंचे ही थे कि ड्राइवर के द्वारा ट्रैक्टर की स्पीड बढ़ा दिया गया। तब इंजन पर बैठा एक मजदूर गिरकर चक्के के नीचे दब गया। जिसके सिर में गंभीर चोट आने की वजह से उसके साथी उसे लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोटा जा रहे थे। तभी रास्ते में उसने दम तोड़ दिया। इस घटना की सूचना कोटा पुलिस को दी गई। तब कोटा पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर ट्रैक्टर को जप्त करते हुए पूछताछ लोगो के व्यान के उपरांत शव को मरचुरी भेजकर आज पोस्टमार्टम कराया। उसके पश्चात परिजनों को सौंप दिया है। वहीं फिलहाल कोटा पुलिस इस मामले में मर्ग कायम कर जांच में जुटी है ।
इस संबंध में कोटा पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि दुर्गेश यादव पिता रामू यादव उम्र ३५ वर्ष ग्राम घुट्कु रेत घाट के पास बंधवा पारा भाड़म रेलवे फाटक पास का निवासी है जोकि ट्रैक्टर क्रमांक सीजी १० डी ५८२३ में मजदूरी का कार्य करता था। जोकि ईट भञ लमेर से ईट भरकर शनिवार और रविवार की बीती दरमियानी रात बिलासपुर गए थे। जहां पर इट खाली कर वे कोटा की ओर लौट रहे थे। अभी वे ३:३० बजे रात करीब घुटकु के पास पहुंचे ही थे कि ट्रैक्टर चालक ने ट्रैक्टर की स्पीड बढ़ा दिया। जिसके चलते इंजन पर बैठा दुर्गेश यादव नीचे गिर गया।और ट्रैक्टर की पहिया में दब गया। जिसके चलते उसके सिर में गंभीर चोटे आई। जिसे समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोटा इलाज के लिए उसके साथियों के द्वारा ले जाया जा रहा था। तभी वह रास्ते में दम तोड़ दिया। इस घटना की सूचना तब उसके साथियों ने कोटा पुलिस को दिया। कोटा पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर ट्रैक्टर को जप्त कर कोटा थाना ले आई । वहीं मृतक के साथ अन्य काम करने वाले मजदूरों से इस मामले में गहन पूछताछ किया। जिसके बाद पंचनामा व्यान  लेकर शव को पोस्टमार्टम के लिए कोटा मरचुरी भेज दिया।जहां पर पोस्टमार्टम पश्चात अंतिम दाह संस्कार के लिए मृतक के परिजनों को  पुलिस ने शव को सौंप दिया। फिलहाल इस मामले में कोटा पुलिस मर्ग कायम कर जांच में जुटी है।