गांधीनगर. मंगलवार को कक्षा 10 वीं के 11.59 लाख विद्यार्थियों का 66.97 प्रतिशत परिणाम घोषित किया गया। इसमें पिछले साल की तरह  इस साल भी सूरत जिला पहले नम्बर पर है, जिसका प्रतिशत 79.64 रहा, दूसरी ओर  छोटाउदेपुर जिले का 46.83% रहा। इस बार भी छात्राओं ने बाजी मार ली है। छात्राें की अपेक्षा छात्राओं का परिणाम 10 प्रतिशत अधिक रहा।


गिर सोमनाथ जिले का सुपासी केंद्र में अव्वल
गिर सोमनाथ जिले का सुपासी केंद्र 95.56 प्रतिशत परिणाम के साथ अव्वल रहा। सबसे बेकार परिणाम देने वाले केंद्र इसी जिले का तड़ केंद्र है। इसका परिणाम 17.63 प्रतिशत रहा। विद्यार्थी बोर्ड की वेबसाइट www.gseb.org पर अपना परिणाम देख सकते हैं।


100 प्रतिशत परिणाम देने वाली 366 शालाएं
दसवीं में 100% परिणाम देने वाली 366 शालाएं हैं। दूसरी ओर 995 शालाएं ऐसी हैं, जिनका परिणाम 30 प्रतिशत से भी कम है। 63 शालाएं ऐसी हैं , जिनका रिजल्ट 0 प्रतिशत है।


गुजराती माध्यम का परिणाम 64.58
गुजराती माध्यम का परिणाम 64.58 प्रतिशत और हिंदी माध्यम का 72.66 प्रतिशत रहा। दूसरी ओर अंग्रेजी माध्यम का परिणाम 88.11 रहा।


4974 विद्यार्थियों को ए 1 ग्रेड
दसवीं में 4974 विद्यार्थियों को ए 1 ग्रेड, 70677 को बी 1 ग्रेड , 129629 को बी 2 ग्रेड प्राप्त किया है।


राज्य के सबसे अधिक परीक्षार्थी सूरत के
दसवीं की इस परीक्षा में पूरे राज्य से 11 लाख 59 हजार 762 छात्र-छाात्राएं शामिल हुई थी। सबसे अधिक परीक्षार्थी 98 हजार 563 सूरत में थे। सबसे कम 1317 परीक्षार्थियों ने दीव में परीक्षा दी थी। इसमें 7 लाख 5 हजार 464 छात्र और 4 लाख 54 हजार 279 छात्राएं थीं।