इन्दौर । कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी लोकेश कुमार जाटव द्वारा आज नेहरू स्टेडियम में गत 19 मई 2019 को लोकसभा निर्वाचन के परिपेक्ष्य में हुए मतदान की संवीक्षा की। समीक्षा में प्रेक्षक चंद्रशेखर खरे ने भी भाग लिया। भारत निर्वाचन के निर्देशानुसार अभ्यर्थियों या उनके प्रतिनिधियों की मौजूदगी में मतदान की संवीक्षा की गई। मतदान के संबंध में किसी अभ्यर्थी द्वारा कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई गई थी। संवीक्षा के दौरान मतदान में व्यवधान में कारणों की संवीक्षा की गई। चुनाव के दौरान जिले में लगभग 30 मशीनें बदली गई थी।
कलेक्टर जाटव ने उन मतदान केन्द्रों की संवीक्षा की, जहाँ पर सामान्य से कम या अधिक मतदान हुआ था और मशीनें बदली गई थी। संवीक्षा माइक्रो आब्जर्वर की रिपोर्ट के आधार पर की गई। संवीक्षा को पीठासीन अधिकारी की डायरी को आधार बनाया गया। संबंधित विधानसभा क्षेत्र के सहायक रिटर्रिंग ऑफिसर से भी चर्चा की गई। बारी-बारी से जिले में सभी 09 विधानसभा क्षेत्रों की संवीक्षा की गई।
:: स्वीप प्लान के कारण लगभग 7 प्रतिशत मतदान बढ़ा :: 
कलेक्टर जाटव ने बताया कि स्वीप प्लान के तहत मतदाता जागरूकता अभियान के  कारण लगभग 7 प्रतिशत मतदान बढ़ा है। पिछले लोकसभा चुनाव में लगभग 62 प्रतिशत मतदान हुआ था। इस बार लोकसभा निर्वाचन-2019 में 69.30 प्रतिशत हुआ है, जो कि एक उल्लेखनीय उपलब्ध‍ि है। इसके लिए जिले के निर्वाचन में लगे अधिकारी और कर्मचारी बधाई के पात्र हैं। तेज गर्मी के बावजूद लोगों ने मतदान में बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया, जिसके कारण मतदान का प्रतिशत बढ़ा।
:: मतगणना की तैयारी शुरू :: 
कलेक्टर जाटव ने बताया है कि जिला प्रशासन द्वारा नेहरू स्टेडियम में मतगणना की तैयारी शुरू कर दी गई है। मतदान उपरांत सभी ईवीएम मशीन स्ट्रांग रूम में सील कर दी गई है। मतगणना कर्मियों की ड्यूटी मतगणना के लिए लगा दी गई है। उन्हें प्रथम चरण का प्रशिक्षण भी दे दिया गया है। मतगणना के लिए अधोसंरचना का काम पूरा कर लिया गया है। मतगणना के दौरान निर्वाचन आयोग के निर्देशों का कड़ाई से पालन किया जायेगा। मतगणना स्थल पर मूलभूत सुविधाओं के मुकम्मल इंतजाम किये जायेगें। मतगणना के लिए मतगणना हॉल तैयार कर लिया गया है। चुनाव आयोग के निर्देशानुसार इस बार प्रत्येक विधानसभा की 5-5 वीवीपैट मशीन की पर्चियों का सत्यापन किया जायेगा। बैठक में अपर कलेक्टर सुश्री भव्या मित्तल, अजय देव शर्मा, कैलाश वानखेड़े, सभी सहायक रिटर्रिंग ऑफिसर आदि मौजूद थे।