ऊगादोगो । उत्तरी बुर्कीना फासो के दाब्लो में रविवार को अज्ञात बंदूकधारियों ने एक चर्च पर अचानक धावा बोल दिया जिसनें पादरी और प्रार्थना कर रहे 5 अन्य लोगों की हत्या कर दी गई। सुरक्षाकर्मियों और स्थानीय अधिकारियों ने इसकी पुष्टि की है। दाब्लो के मेयर उस्माने जोंगो ने कहा, ‘प्रार्थना के दौरान सुबह करीब 9 बजे हथियारबंद लोगों ने चर्च पर हमला किया। लोगों ने जब वहां से भागने की कोशिश की तो उन्होंने उनपर गोलियां चलाईं।’ जोंगो ने बताया कि सुरक्षा बलों के अनुसार करीब 20-30 हमलावर थे। उन्होंने कुछ लोगों को बंधक बना लिया। हमले में प्रार्थना करा रहे पादरी सहित छह लोगों की हत्या कर दी गई। बंदूकधारियों ने चर्च, कुछ दुकानों और एक कैफे को आग लगा दी। वहां से वे स्थानीय स्वास्थ्य केन्द्र तक गए, उन्होंने केंद्र को लूटा और एक नर्स के वाहन को आग लगा दी। इस अफ्रीकी देश में पिछले कुछ महीनों में ऐसे हिंसक घटनाओं की संख्या बढ़ी है। इस्लामिक चरमपंथी संगठनों ने पिछले कुछ वक्त में देश के अल्पसंख्यक समुदाय पर कई बार हिंसक हमले किए हैं। पिछले कुछ वर्षों में देश में हिंसक घटनाओं की संख्या में काफी वृद्धि हुई है। ज्यादातर ऐसी घटनाओं को अंजाम देनेवाले अलकायदा और आईएसआईएस के स्थानीय संगठन होते हैं। 2017 में इन संगठनों द्वारा किए आतंकी घटनाओं की संख्या 24 थी जो 2018 में बढ़कर 136 हो गई। अफ्रीका सेंटर फॉर स्ट्रैटिजिक स्टडीज ने ये आंकड़े जारी किए थे। पिछले साल ही ट्रंप प्रशासन ने अफ्रीका में मौजूद अमेरिकी सैन्य बलों की संख्या 10 फीसदी तक घटाने का ऐलान किया था।