नई दिल्ली । 20 मई से कोरिया के खिलाफ होने वाली तीन मैचों की श्रृंखला में 18 सदस्यीय भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तानी स्ट्राइकर रानी रामपाल करेंगी। मुख्य कोच सोर्ड मारिने के मार्गदर्शन वाली इस टीम में गोलकीपर सविता को उप कप्तान बनाया गया है। रानी चोटिल होने के कारण मलेशियाई दौरे पर नहीं खेल सकी थीं। ये मैच जापान के हिरोशिमा में 15 से 23 जून तक चलने वाले एफआईएच महिला सीरीज फाइनल्स को देखते हुए भारतीय टीम के लिये अहम होंगे। साल के शुरू में भारतीय टीम ने स्पेन और आयरलैंड के दौरे किये थे। भारत ने दो मैच जीते, तीन ड्रा कराये जबकि एक में उसे हार का सामना करना पड़ा। टीम ने मलेशिया का दौरा भी किया था जिसमें उन्होंने 4-0 से जीत हासिल की थी। सविता और रजनी इतिमारपू कोरियाई दौरे में तीन मैचों में गोलकीपिंग की जिम्मेदारी संभालेंगी। वहीं मलेशिया दौरे में नहीं जा पायी गुरजीत कौर वापसी करेंगी। कोच मारिने ने कहा, ‘मैं रानी और गुरजीत कौर जैसी अनुभवी खिलाड़ियां के टीम में वापसी से खुश हूं। मुझे इस बात से खुशी है कि वे इन मैचों में खेलने के लिये पूरी तरह से फिट हैं। 


टीम इस प्रकार है :

गोलकीपर : सविता, रजनी इतिमारपू


डिफेंडर : सलीमा टेटे, सुनीता लकड़ा, दीप ग्रेस एक्का, करिश्मा यादव, गुरजीत कौर, सुशीला चानू पुखराम्बाम मिडफील्डर : मोनिका, नवजौत कौर, निक्की प्रधान, नेहा गोयल, लिलिमा मिंज फारवर्ड, रानी (कप्तान), वंदना कटारिया, लालरेमसियामी, ज्योति और नवनीत कौर।