नई दिल्ली । भारतीय खिलाड़ी ऋषभ पंत की कभी कभार इस बात के लिए आलोचना की जाती है कि वह अपनी टीम को फिनिशिंग लाइन तक नहीं ले जाते है। लेकिन दिल्ली कैपिटल्स के स्काउटिंग प्रमुख प्रवीण आमरे को लगता है कि यह आलोचना बेकार है,क्योंकि ‘आप इस तरह के विशेष खिलाड़ी की नैसर्गिक प्रतिभा को नियंत्रित नहीं कर सकते। आमरे ने पंत के बारे में कहा, ‘मैंने ऋषभ को तीन साल पहले देखा था (जब वह दिल्ली से जुड़ा था) और जब अब मैं पंत को देखता हूं तो मुझे लगता है कि उसमें काफी अच्छी चीजें हुई हैं। उसमें वहां ‘एक्स-फैक्टर’ है और वह अपने दम पर मैचों में जीत दिला सकता है। पंत टीम के शीर्ष स्कोर हैं, पंत ने 16 मैचों में 488 रन जुटाए हैं। एलिमिनेटर में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ भी पंत ने मैच विजयी पारी खेली थी, लेकिन वह मैच फिनिश नहीं कर पाए थे। 
इस पूर्व भारतीय बल्लेबाज ने कहा, अगर आप उसकी फिनिशिंग काबिलियत के बारे में बात करते हो तो वह खुद ही इससे वाकिफ है (कि उस अपनी टीम के लिए मैच जीत से समाप्त करने की जरूरत है। जब आप मैच विजेता हो तो आपको जीत तक ले जाना होता है। आप सुरक्षित क्रिकेट नहीं खेल सके, आपको जोखिम लेने होते हैं। इस तरह के खिलाड़ियों के साथ आपको उन्हें सही तरीके से ढालना होता है। पंत ने कप्तान श्रेयस अय्यर और दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज कैगिसो रबाडा के साथ मिलकर अपनी टीम को प्लेऑफ तक पहुंचाने में अहम भूमिका अदा की। दिल्ली के आईपीएल-2019 में प्रदर्शन के बारे में आमरे ने कहा, यह नतीजा शानदार है क्योंकि रिकी (पोंटिंग) और सौरव (गांगुली) की अगुवाई वाले प्रबंधन ने इस युवा टीम के मार्गदर्शन में काफी प्रयास किए हैं। अंत में हम दिल्ली के प्रशंसकों को सकारात्मक नतीजा दे पाए।