नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव 2019 के पांचवें चरण के मतदान से पहले कांग्रेस ने बड़ी कार्रवाई की है. कांग्रेस ने मधुबनी से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे पार्टी के नेता शकील अहमद को सस्पेंड कर दिया है. इसके साथ-साथ कांग्रेस ने शकील अहमद का समर्थन कर रही विधायक भावना झा को भी पार्टी से सस्पेंड कर गया दिया है.

कांग्रेस के कद्दावर नेता शकील अहमद पार्टी से गुस्सा होकर बिहार के मधुबनी सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं. लेकिन पार्टी शकील अहमद के इस काम से काफी नाराज थी. माना जा रहा था कि कांग्रेस जल्द ही शकील अहमद पर कार्रवाई कर सकती है. जिसके तहत पार्टी ने अब कार्रवाई करते हुए उन्हें पार्टी से सस्पेंड कर दिया है.
नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव 2019 के पांचवें चरण के मतदान से पहले कांग्रेस ने बड़ी कार्रवाई की है. कांग्रेस ने मधुबनी से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे पार्टी के नेता शकील अहमद को सस्पेंड कर दिया है. इसके साथ-साथ कांग्रेस ने शकील अहमद का समर्थन कर रही विधायक भावना झा को भी पार्टी से सस्पेंड कर गया दिया है.

कांग्रेस के कद्दावर नेता शकील अहमद पार्टी से गुस्सा होकर बिहार के मधुबनी सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं. लेकिन पार्टी शकील अहमद के इस काम से काफी नाराज थी. माना जा रहा था कि कांग्रेस जल्द ही शकील अहमद पर कार्रवाई कर सकती है. जिसके तहत पार्टी ने अब कार्रवाई करते हुए उन्हें पार्टी से सस्पेंड कर दिया है.
वहीं, कांग्रेस पार्टी से बेनीपट्टी की विधायक भावना झा को भी सस्पेंड कर दिया गया है. कहा गया है कि चुनाव में पार्टी के विरूद्ध काम करने की वजह से उन्हें बर्खास्त कर दिया गया है.
आपको बता दें कि मधुबनी सीट महागठबंधन के सहयोगी दल वीआईपी पार्टी के खाते में गई थी. लेकिन शकील अहमद ने इसका विरोध किया था. इसके बाद शकील अहमद ने निर्दलीय चुनाव लड़ने का फैसला किया. हालांकि शकील अहमद कांग्रेस से चुनाव लड़ना चाहते थे. वहीं, नामांकन करने के बाद भी वह कांग्रेस को सपोर्ट करने की बात कर रहे थे, लेकिन वह अपना नामांकन वापस लेने से इनकार किया था. मधुबनी सीट पर मतदान सोमवार (6 मई) को होगा.