नई दिल्लीः वेस्ट दिल्ली के राजौरी गार्डन इलाके में एक ट्यूटर के घर में इनकम टैक्स ऑफिसर बन कर 48 लाख की लूट का मामला सामने आया है, जिसे पुलिस ने कुछ ही घंटों में सुलझा भी लिया है. पुलिस ने दावा किया है कि सीसीटीवी फुटेज की मदद से राजौरी गार्डन पुलिस ने इसे सुलझा लिया है और वारदात में शामिल 4 में से 2 आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया है, जबकि अन्य 2 बदमाशों की तलाश की जा रही है. पुलिस के मुताबिक बदमाशों के साथ ही पुलिस ने साढ़े 22 लाख रुपये भी बरामद कर लिए हैं, जबकि करीब 25 लाख का अभी कोई पता नहीं चल पाया है. पुलिस ने बताया कि दिल्ली के राजौरी गार्डन इलाके में यह लूट फिल्म 'स्पेशल 26' की तर्ज पर की गई है. जहां इनकम टैक्स ऑफिसर बनकर ट्यूटर के घर पहुंचे बदमाशों ने इस घटना को अंजाम दिया.
गौरतलब है कि 11 अप्रैल की शाम टैगोर गार्डन इलाके में सनसनीखेज वारदात सामने आई थी. जिसमें एक ट्यूटर के घर से 4 लोग जिसमें एक महिला भी शामिल थी, इनकम टैक्स ऑफिसर बन कर घर आए और 48 लाख लूट कर ले गए थे. मामले में आरोपियों का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया था. उसी से पुलिस को आरोपियों तक पहुंचने में मदद मिली. फिलहाल पुलिस ने नितिन सूद और प्रवीण को गिरफ्तार किया है. नितिन पर पहले भी लूट के कुछ मामले दर्ज हैं, जिसमे पश्चिम विहार में ज्वेलर्स के यहां 90 लाख की लूट भी शामिल है.
पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक नितिन को महिला मित्र से ट्यूटर के घर में लाखों रुपये होने की जानकारी मिली थी. जिसके बाद इन्होंने फिल्म स्पेशल 26 की तर्ज पर लूट की साजिश रची. मिली जानकारी के अनुसार नितिन को व्यवसाय में घाटा हुआ, जिसके बाद उसने काफी पैसा लोगों से कर्ज के तौर पर लिया हुआ था. लेकिन जब कर्ज चुकाने को लेकर लेनदार उस पर दबाव बनाने लगे तो उसने इस पूरी वारदात की साजिश रच डाली. फिलहाल महिला सहित एक और आरोपी की तलाश में पुलिस जुटी है. इनके पास से लूटे हुए साढ़े 22 लाख कैश बरामद हुआ है .साथ ही एक सेंट्रो कार भी पुलिस ने जब्त की है.