नई दिल्ली,  कांग्रेस ने काले बक्से के बहाने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरा है. कांग्रेस ने एक वीडियो जारी कर पूछा है कि पीएम के हेलिकॉप्टर से उतारे गए बक्से में क्या था और चुनाव आयोग से जांच की मांग की है. बीजेपी ने वीडियो पर पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेस ने बौखलाहट में वीडियो जारी किया है.

कांग्रेस का दावा है कि वीडियो में दिख रहे बक्से को पीएम के हेलिकॉप्टर से उतार कर एक वैन में रखा गया. कांग्रेस का दावा है कि 12 अप्रैल को कर्नाटक के चित्रदुर्ग में प्रधानमंत्री मोदी के उतरने के फौरन बाद एक काले रंग का बक्सा हेलिकॉप्टर से उतारा गया.

गौरतलब है कि 12 अप्रैल को प्रधानमंत्री की चित्रदुर्ग में रैली थी.कांग्रेस का आरोप है कि इसी दिन प्रधानमंत्री की रैली के लिए रवानगी होते ही काला बक्सा उतारा गया. पार्टी ने चुनाव आयोग से इसकी जांच की मांग की है.
 कांग्रेस ने चुनाव आयोग से की शिकायत

कांग्रेस प्रवक्ता आनंद शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेस में कह कि पीएम मोदी की चित्रदुर्ग की रैली में अनोखा दृश्य देखने को मिला. प्रधानमंत्री हेलिकॉप्टर में थे. वायुसेना का हेलिकॉप्टर था. प्रधानमंत्री के साथ हेलिकॉप्टर में वायुसेना एवं एसपीजी के अधिकारी होते हैं. चित्रदुर्ग में पीएम के हेलिकॉप्टर से एक काले रंग का प्राइवेट बक्सा उतारा गया और एक प्राइवेट गाड़ी में रखवाया गया जो एकदम से वहां से चली गई.

आनंद शर्मा ने कहा कि इसकी लिखित शिकायत चुनाव आयोग से की गई है. उन्होंने कहा कि हमारी मांग है कि इस मामले की फौरन जांच हो. उन्होंने कहा कि हम जहां भी चुनाव प्रचार के लिए जाते हैं हमारी जांच होती है क्या देश के प्रधानमंत्री की नहीं होनी चाहिए. इसकी जांच होनी चाहिए कि उस बक्से के अंदर क्या था. इसका खुलासा होना चाहिए कि उसके अंदर क्या था और वह बक्सा कहां गया? उन्होंने कहा कि देश की जनता को यह जानने का आधिकार है.

कंग्रेस प्रवक्ता ने पीएम मोदी पर खोखले वादे करना का आरोप लगाया.उन्होंने कहा कि मोदी ने साल 2014 में लोगों को गुमराह किया तभी उनके पक्ष में लहर बनी. आनंद शर्मा ने पीएम मोदी से पांच साल का लेखा-जोखा भी मांगा. उन्होंने कहा कि पिछले पांच साल में इस देश के भीतर दलित और शोषित वर्ग के साथ कितना न्याय हुआ है. पीएम मोदी इस बात का जवाब दें. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की चुनौती पर बहस क्यों नहीं करते.