एक वक्त था जब सेक्स के बारे में बात करना समाज में वर्जित माना जाता है, लेकिन बदलते वक्त और बढ़ती जागरुकता के बीच अब लोग यौन शिक्षा और यौन संबंधों के विभिन्न तरीकों के बारे में भी जानकारी हासिल करने में दिलचस्पी दिखाते हैं। सेक्स को एक कपल के बीच मजबूत रिश्ते का आधार माना जाता है। हाल ही में हमने आपको मिशनरी सेक्स और उसे जुड़ी कुछ खास बातें बताई थीं। आज आपको बताएंगे वनिला सेक्स के बारे में:
वनिला सेक्स को कन्वेंशनल सेक्स भी कहा जाता है। यह एक ऐसी सेक्शुअल ऐक्टिविटी होती है जिसमें सेक्स के अन्य तत्व शामिल नहीं होते। इसमें न तो किसी तरह के सेक्स टॉय या फिर अन्य किसी चीज का इस्तेमाल किया जाता है। इस प्रक्रिया में सिर्फ एक ही पार्टनर यौन संबंधों का मजा ले पाता है और दूसरा पार्टनर जिसे इस प्रक्रिया में इंजॉयमेंट नहीं मिलता, उसे वनिला पार्टनर कहा जाता है।
फर्स्ट टाइम सेक्स करने जा रहे हैं तो आपके लिए वनिला सेक्स एकदम पर्फेक्ट माना जाता है क्योंकि इसमें आपको अपने पार्टनर को कुछ प्रूव करके दिखाने की जरूरत नहीं होगी और न ही कुछ रोमांचक ट्राई करने की।
यौन संबंध बनाना दोनों पार्टनर्स के लिए आसान हो जाता है। साथ ही दोनों पार्टनर एक-दूसरे को प्लेज़र देते हुए काफी टाइम साथ में बिता सकते हैं। जिन महिलाओं को इंटरकोर्स के दौरान दर्द होता है, उनके लिए यह सेक्स स्टाइल बेहद फायदेमंद है।
वनिला सेक्स एक तरह का मिशनरी सेक्स ही होता है। अन्य सेक्स पोजिशन और स्टाइल के मुकाबले इस वनिला सेक्स स्टाइल ज्यादा कैलरी बर्न करने में मदद करता है और इसलिए यह एक गजब की एक्सर्साइज है।