न्यूर्याक। एक हालिया अध्ययन में दावा किया गया है कि शराब की एक बोतल से कैंसर होने का खतरा उतना ही है जितना 10 सिगरेट से? अध्ययन में कहा गया है कि एक बोतल शराब पीने से कैंसर का खतरा उसी हद तक बढ़ जाता है जितना कि 10 सिगरेट पीने से। वैज्ञानिकों ने शराब पीने से कैंसर के रिस्क की स्मोकिंग करने से पैदा होने वाले कैंसर रिस्क के साथ तुलना की और उन्हें महिलाओं के लिए चौकाने वाले आंकड़े मिले। वहीं, जब उन्होंने पुरुषों के लिए यही आकलन किया तो सामने आया कि सप्ताह में शराब की एक बोतल पीने से कैंसर का खतरा उतना ही होता है जितना 5 सिगरेट पीने से। हालांकि शराब से कैंसर का रिस्क सबसे ज्यादा महिलाओं में पाया गया क्योंकि इसका कनेक्शन ब्रेस्ट कैंसर से भी है। हालांकि ब्रिटिश बियर ऐंड पब असोसिएशन के ब्रिगिड सिमन्ड्स ने इस स्टडी को निरर्थक बताया और कहा कि इसने लोगों को जागरुक करने के लिए कुछ खास नहीं किया।' वहीं कुछ एक्सपर्ट्स ने भी कहा कि शराब पीने के बजाय स्मोकिंग की वजह से कैंसर का अधिक खतरा है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि स्मोकिंग से शराब की खपत कम करने में मदद मिलेगी। यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल साउथम्पटन, बंगोर यूनिवर्सिटी और साउथम्पटन यूनिवर्सिटी के मुताबिक, सप्ताह में एक बोतल शराब यानी 10 यूनिट का अर्थ है कि स्मोकिंग न करने वाले 1 फीसदी पुरुषों के लिए शराब के इतने पैग पीने से लाइफटाइम कैंसर का रिस्क होता है, जबकि यही रिस्क महिलाओं में 1, 4 फीसदी होता है। डॉ थेरेसा हेदिस ने कहा, 'यह तो सभी जानते हैं कि ज्यादा शराब पीने से कैंसर होता है, लेकिन पब्लिक इसे लेकर जागरुक नहीं है। वह स्मोकिंग को ही कैंसर से जोड़कर देखती है। हम उम्मीद करते हैं कि सिगरेट के साथ शराब और कैंसर के कनेक्शन की तुलना करके हम लोगों को प्रभावपूर्ण तरीके से संदेश दे पाएंगे ताकि वे अपने लाइफस्टाइल में जरूरी बदलाव कर अच्छी जिंदगी जी सकें।'