न्यूर्याक। जो महिलाएं नियमित रूप से सेक्शुअल इंटरकोर्स में शामिल होती हैं उनकी याददाश्त तेज होती है। ऐसी महिलाओं में चीजों और शब्दों को याद रखने की क्षमता और बेहतर होती है। अगर आप अब तक यह सोच रहीं थीं ज्यादा सेक्स करना सेहत के लिए नुकसानदेह हो सकता है तो महिलाओं के लिए एक खुशखबरी है। इस नए शोध के मुताबिक अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि वैसी महिलाएं जो नियमित रूप से सेक्शुअल इंटरकोर्स में शामिल होती हैं उनकी चीजों और शब्दों को याद रखने की क्षमता और बेहतर होती है। रिसर्च के लिए अनुसंधानकर्ताओं ने 18 से 29 साल के बीच की 78 हेट्रोसेक्शुअल महिलाओं को एक कम्प्यूटराइज्ड मेमरी पेराडिग्म को कम्प्लीट करने को कहा जिसमें कुछ काल्पनिक शब्द और निपक्ष चेहरे थे। रिसर्च के नतीजे बताते हैं कि नियमित रूप से सेक्स करने पर काल्पनिक शब्दों को याद रखने पर पॉजिटिव रिजल्ट मिले लेकिन चेहरों को याद रखने पर नहीं। कनाडा के मॉन्ट्रियल स्थित मैकगिल यूनिवर्सिटी के अनुसंधानकर्ताओं ने यह रिसर्च की जिसके नतीजे बताते हैं कि पीवीआई यानी पीनाइल-वजाइनल इंटरकोर्स का हेल्दी यंग महिलाओं के मेमरी फंक्शन यानी याददाश्त पॉजिटिव असर पड़ता है और उनकी याद रखने की क्षमता बेहतर होती है।