पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज और अब दिल्ली की सीनियर और अंडर-23 टीमों के चयनकर्ता प्रमुख अमित भंडारी पर सोमवार (11 फरवरी) को दिल्ली में एक अभ्यास मैच के दौरान कुछ लोगों ने हमला कर उनकी पिटाई की, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। भंडारी पर हॉकी स्टिक और लोहे की रॉड लिए कुछ लोगों ने हमला किया, जब वह सेंट स्टीफन क्रिकेट मैदान में दो अन्य चयनकर्ताओं के साथ चयन ट्रायल मैच देख रहे थे। 

यह मैच सीनियर टी-20 संभावितों में खेला जा रहा था। भंडारी को सिर और कान में चोट आई है और उन्हें सिविल लाइंस के संत परमानंद अस्पताल में  भर्ती कराया गया। यह घटना उस समय हुई जब पहला मैच समाप्त होने वाला था और कुछ देर बाद दूसरा मैच शुरु होने वाला था। प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि जब खिलाड़ियों और अन्य डीडीसीए अधिकारियों ने हस्तक्षेप करने की कोशिश की तो उन्हें भी धमकी दी गई।
इस घटना के बाद दिल्ली के क्रिकेटरों इस मामले की कड़ी निंदा करते हुए हमलावरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। गंभीर ने तो यहां तक कहा कि वह खुद इस बात को सुनिश्चित करेंगें कि घटना के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई हो।
पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने आरोपी पर आजीवन प्रतिबंध लगाने की मांग की। उन्होंने कहा, ''राजधानी के केंद्र में ऐसी घटना से हैरान हूं। यह मामला दबाया नहीं जाएगा और मैं निजी तौर पर सुनिश्चित करूंगा कि ऐसा न हो। मैं इसकी शुरुआत उस खिलाड़ी पर आजीवन प्रतिबंध लगाने की मांग से कर रहा हूं जिसने चयन नहीं होने पर यह हमला करवाया।

पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने मामले में कड़ी कार्रवाई करने की मांग की। सहवाग ने ट्वीट किया, ''दिल्ली के चयनकर्ता अमित भंडारी पर एक खिलाड़ी का चयन नहीं करने पर हमला बदतर स्थिति को बयां करता है और मुझे उम्मीद है कि दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होंगी और भविष्य में ऐसी घटनाओं से बचने के लिए उचित कदम उठाए जाएंगे।    
शिखर धवन ने भी इस मामले को लेकर एक ट्वीट किया है। उन्होंने कहा- मुझे यकीन नहीं हो रहा कि अमित भंडारी भैया के साथ ऐसा हुआ। यह काफी दुखी और हैरान करने वाला है। इस मामले की जल्दी जांच की जाए और आरोपियों के खिलाड़ी कडा़ एक्शन लिया जाए।
इस हमले में शामिल खिलाड़ी और अन्य हमलावर पुलिस के पहुंचने से पहले ही फरार हो गए, लेकिन बाद में उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस उपायुक्त (उत्तर) नुपुर प्रसाद ने कहा, ''आज दोपहर बाद लगभग एक बजकर 15 मिनट पर सेंट स्टीफन्स मैदान पर चल रहे ट्रायल्स के दौरान एक व्यक्ति अनुज डेढ़ा वहां पहुंचा और टीम में चयन नहीं होने के बारे में पूछा तथा भंडारी पर थप्पड़ मारी। इसके बाद 10-15 और लड़के आए और उन्होंने भंडारी पर हमला किया।''

उन्होंने कहा, ''शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर लिया गया है तथा आरोपी और उसके भाई नवीन को गिरफ्तार कर लिया गया है।'' बता दें कि डीडीसीए ने नवंबर में अंडर-23 ट्रायल्स के लिए जिन 79 सदस्यों की सूची जारी की थी, उनमें डेढ़ा का नाम शामिल था। उसकी जन्मतिथि 22 नवंबर 1995 है।