श्रीनगर, दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले में आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ जारी है. केल्लम गांव में छिपे दहशतगर्दों को सेना के जवानों ने चारों ओर से घेर रखा है. दोनों ओर से लगातार फायरिंग चल रही है. आतंकी इस गांव में कब घुसे, फिलहाल इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है.  

बीती रात सुरक्षा बलों को केल्लम गांव में कुछ संदिग्ध लोगों की गतिविधि के बारे में सूचना मिली. इनपुट के आधार पर सेना के जवानों ने पूरे गांव को चारों ओर से घेर लिया और खोजबीन शुरू की. तलाशी अभियान से बौखलाए आतंकियों ने सेना पर गोलीबारी शुरू कर दी. सेना ने भी इसका मुंहतोड़ जवाब दिया और फिलहाल दोनों तरफ से लगातार फायरिंग की खबरें आ रही हैं. अब तक प्राप्त सूचना के मुताबिक गांव में 3-4 आतंकी छिपे हुए हैं जिनके खिलाफ कार्रवाई चल रही है.

पुलवामा में बुधवार को भी सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई थी. पुलिस के मुताबिक लित्तर इलाके के चकूरा गांव में आतंकियों की मौजूदगी की जानकारी मिली थी. इसके बाद सुरक्षा बलों ने इलाके को चारों ओर से घेर लिया और खोज अभियान शुरू किया. पुलिस के अधिकारी ने बताया, "जैसे ही छिपे आतंकियों के चारों ओर घेरे को कड़ा किया गया तो उन्होंने सुरक्षा बलों पर गोलियां चलाई, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई." मुठभेड़ वाली जगह से कुछ दूरी पर प्रदर्शनकारियों और सुरक्षाकर्मियों के बीच भी भिड़ंत हो गई.
1 फरवरी को भी पुलवामा के एक गांव में सुरक्षाबलों के साथ आतंकियों की मुठभेड़ हुई थी जिसमें जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) के दो आतंकवादी मारे गए. पुलिस के मुताबिक दो आतंकवादियों को द्राबगम में पुलिस और सेना की संयुक्त कार्रवाई में मार गिराया गया. इस कार्रवाई में राष्ट्रीय राइफल्स, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और राज्य पुलिस के विशेष अभियान समूह (एसओजी) ने हिस्सा लिया. आतंकवादियों को छिपे होने की खबर मिलने के बाद देर रात गांव को घेर लिया गया और कार्रवाई की गई.

आतंकवादी कहीं भाग न जाएं और उन्हें अंधेरे में देखा जा सके इसके लिए गांव के चारों ओर फ्लडलाइट्स लगाई गई थीं. सुरक्षा बलों को पास आता देख आतंकवादियों ने गोलीबारी शुरू कर दी और फिर दोनों ओर से मुठभेड़ शुरू हो गई. इस घटना में जैश के दो आतंकी मारे गए.