नई दिल्ली,  लोकसभा में अपने भाषण के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्ष को आड़े हाथों लिया. कर्नाटक की कांग्रेस और जेडीएस सरकार पर हमला बोलते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दावा किया कि उनकी सरकार ने किसानों की कर्जमाफी का वादा पूरा नहीं किया. हालांकि, प्रधानमंत्री के दावों पर कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने पलटवार किया है. प्रधानमंत्री के 60 हजार के आंकड़ों के उलट कुमारस्वामी ने कहा है कि उनकी सरकार ने 4 लाख किसानों को कर्जमाफी का लाभ पहुंचाया है.

प्रधानमंत्री ने क्या कहा था...

कर्जमाफी पर पलटवार करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, 'कर्नाटक सरकार ने किसानों का कर्ज माफ करने का ऐलान किया था, 43 लाख लोगों को इसका फायदा मिलना चाहिए था लेकिन सिर्फ 60 हजार किसानों का कर्ज माफ हुआ. मध्य प्रदेश और राजस्थान में 10 दिन में कर्जमाफी का दावा किया गया था लेकिन वहां अभी कागज ही तैयार नहीं है.'
PM मोदी बोले, 'आप 10 साल में 50-60 हजार करोड़ का कर्ज माफ करते हैं, जिसका सबको लाभ नहीं मिलता. हमने जो योजना शुरू की है, उसमें 10 सालों में किसानों के खाते में साढ़े 7 लाख रुपये जाएंगे.'
कुमारस्वामी ने क्या दिया जवाब...
कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने प्रधानमंत्री के आरोपों का जवाब तथ्यों के साथ दिया. उन्होंने ट्वीट कर दावा किया कि अभी तक 1900 करोड़ रुपये करीब 4 लाख किसानों को दिए जा चुके हैं. फरवरी तक सभी किसानों को कर्ज माफी की पहली किस्त मिल जाएगी. उन्होंने इसकी पूरी जानकारी जानने के लिए एक लिंक भी साझा किया. कुमारस्वामी ने लिखा कि नरेंद्र मोदी लोकतंत्र के मंदिर से देश को गुमराह कर रहे हैं.
राज्यपाल ने भी किया था जिक्र

कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला ने अपने भाषण में जिक्र किया था कि राज्य की सरकार ने 31 जनवरी तक 1611 करोड़ रुपये किसानों की कर्जमाफी के लिए जारी कर दिए हैं. इससे 3 लाख 28 हजार किसानों को फायदा मिला है.

देवगौड़ा ने भी साधा निशाना

पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने भी ट्वीट के जरिए नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा. उन्होंने लिखा कि कर्नाटक सरकार ने कर्जमाफी का वादा किया था, जो जारी है. लेकिन बीजेपी ने राम मंदिर, स्वच्छ गंगा, 15 लाख देने का वादा किया था, लेकिन उस पर अभी तक कुछ नहीं हुआ है.

आपको बता दें कि बीते दिनों हुए कई राज्यों में विधानसभा चुनाव के दौरान किसान कर्ज माफी का मुद्दा काफी अहम रहा था. कांग्रेस ने कर्नाटक, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में किसान कर्जमाफी का ऐलान किया था. राहुल गांधी का वादा था कि सरकार बनने के सिर्फ 10 दिन के अंदर उनकी सरकार किसानों का कर्ज माफ कर देगी.