पेरिस: फ्रांस की राजधानी पेरिस और मध्य शहर बोर्श में शनिवार को पीली कुर्ती (येलो वेस्ट) हजारों प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतरे. प्रशासन ने प्रदर्शनकारियों के साथ हिंसक झड़प की आशंका को देखते हुए उच्च सुरक्षा प्रबंध कर रखे थे.

पूर्वी पेरिस में हजारों लोगों ने स्थानीय समयानुसार पूर्वाह्न ग्यारह बजे वित्त मंत्रालय के समीप से मार्च शुरू किया और वे राजधानी की प्रमुख शहरों से शांतिपूर्ण ढंग से गुजरे. उनकी शॉन्ज़-एलिसीज़ एवेन्यू की ओर बढ़ने की योजना था.

24 लोगों को किया गया गिरफ्तार
पुलिस ने बताया कि शनिवार को प्रदर्शन शुरू होने से पहले 24 लोग ऐसी चीजें लाने के कारण गिरफ्तार किए गए जिनका हथियार के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है. इस बीच, प्रांतीय राजधानी बोर्श में भी लोगों ने येलो वेस्ट प्रदर्शन किया. उसके लिए हफ्ते भर से ऑनलाइन आह्वान किया जा रहा था.

पूरे देश में 80000 सुरक्षाकर्मियों को किया गया तैनात
प्रशासन ने सरकार विरोधी प्रदर्शन के नौवे सप्ताहांत के लिए पूरे देश में 80000 सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया था. गृह मंत्री क्रिस्टोफर कास्टेनर ने दंगाइयों और उनके समर्थकों को जबर्दस्त कार्रवाई की धमकी दी थी. उन्होंने शांतिपूर्ण प्रदर्शन में कट्टरता का घूंट बढ़ाने के खिलाफ चेतावनी दी थी.

छुट्टियों के दिनों होने वाला यह प्रदर्शन कुछ कमजोर तो पड़ा था लेकिन यह फिर से मजबूत होता प्रतीत हो रहा है. हालांकि राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने अरबों यूरो की कर राहत का वादा किया था. प्रदर्शनकारियों की चिंता पर देशभर में बहस चल रही है.

प्रदर्शनकारी फ्रांस की अर्थव्यवस्था और राजनीति में गहरा बदलाव चाहते हैं क्योंकि उन्हें धनवानों के पक्ष में देखा जाता है.