जबलपुर। अधारताल थाना अतंर्गत पति की मारपीट एवं प्रताड़ना से तंग श्रीमति पूजा को २० नवंबर को आग से जलने के कारण मेडीकल अस्पताल में भर्ती कराया जहां छुट्टी होने पर उसे उसके पति ने वापस घर ले गया था। जहां दोबारा स्वास्थ्य खराब होने पर पूजा को पुन: भर्ती कराया गया। इलाज के दौरान २८ दिसंबर को पूजा की मृत्यु हो गई। पुलिस ने शव का पंचनामा कार्रवाई कर शव को पोस्टमार्टम हेतु भिजवाते हुये मर्ग कायम कर मामलें को जांच में लिया हैंं।
ये रहा मामला............
नपुअ अधारताल कौशल सिंह ने बताया कि पनागर निवासी श्रीमति पूजा बर्मन की शादी कटंगी खजरी दोनी निवासी राकेश बर्मन से मई २०१४ में हुई थी। शादी के बाद से ही राकेश बर्मन अपनी पत्नी के साथ पनागर में किराये के मकान में रहता एवं आये दिन घरेलू बातों पर मारपीट कर शारीरिक व मानसिक रुप से प्रताड़ित करता। घटना वाले दिन भी राकेश ने पत्नी पूजा से खाना देने के कहा, पूजा के खाना देने पर खाने पर लात मारकर पत्नी पूजा के साथ मारपीट की, जिससे प्रताड़ित पूजा ने स्वयं के ऊपर मिट्टी तेल डालकर आग लगा ली। पति राकेश ने पूजा को मेडीकल अस्पताल में भर्ती कराया जहां से १५ दिसंबर को उसने अपनी पत्नी को वापस घर ले आया व उसका उचित इलाज न कराने पर पत्नी का दोबारा स्वास्थ्य खराब होने पर पुन: मेडीकल कालेज अस्पताल में भर्ती कराया गया जिसकी २८ दिसंबर को मेडकील में मृत्यु हो गई। पुलिस ने आरोपी पति राकेश बर्मन के विरूद्ध धारा ४९८ए,३०६ के तहत का अपराध पंजीबद्ध कर आरोपी की गिरफ्तारी के प्रयास जारी है।