रायपुर : छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में रहने वाली एक महिला सिर्फ चाय पीकर पिछले 33 वर्षों जिंदा है. वह न सिर्फ जीवित हैं बल्की पूरी तरह स्वस्थ्य हैं. इस महिला की इस अनूठी शारीरिक विशेषता को देखकर डॉक्टर भी हैरत में हैं. स्थानीय लोग उन्हें चाय वाली चाची के नाम से जानते हैं. इनका नाम है पल्ली देवी, जो कोरिया जिले के बैकुन्ठपुर विकासखण्ड के बरदिया गांव में रहती हैं. पल्ली देवी पिछले 33 सालों से सिर्फ चाय पर जिंदा हैं.

परिवार के लोगों की मानें तो वह तब से उन्होंने अन्न-जल को मुंह तक नहीं लगाया और केवल चाय पर अपने को जिंदा रखा. कोरिया जिला मुख्यालय से महज 15 किलोमीटर दूर बरदिया नाम का एक गांव है. जहां पल्ली देवी अपने पिता के घर पर रहती हैं.
44 वर्ष की महिला पल्ली देवी के पिता रतिराम बताते हैं कि पल्ली जब छठवीं कक्षा में थी, तब से ही उसने भोजन को छोड़ दिया. भाई ने बताया कि है जब से हमने होश संभाला है अपनी बहन को इसी तरह देखते आ रहे हैं. दिन ढलने के बाद चाय पीती हैं. हमारी बहन कोरिया जिले के तरगवा गांव में 1985 में शादी हो कर राम रतन के यहां गई थीं. पहली बार वापस आने के बाद दोबरा नही गईं. पिल्ली देवी ने बताया की भूख नहीं लगती है दिन ढलने के बाद लाल चाय पीती हूं.
वहीं जिला अस्पताल के डॉक्टर सर्जन डॉ एसके गुप्ता कहना है कि मेडिकल के आधार पर पर संभव नहीं है. आश्चर्यजनक है जांच करवानी चाहिए.