घर, परिवार और जीवन में सदैव समृद्धि होती रहे, इसके लिए जरूरी है कि घर वास्तुनुकूल हो। एक वास्तु सम्मत घर के लिए जरूरी है एक वास्तुनुकूल प्लॉट या भूखंड। पुराने समय में आबादी कम होने के कारण हर तरह से उपयुक्तता देखकर ही किसी जमीन पर घर बनाया जाता था या गांव बसाए जाते थे। शायद इसीलिए उस जमाने में लोगों का जीवन अधिक सुखद और शांत था। इस आर्टिकल में जानिए कि अपने मकान के लिए भूखंड चुनते समय उसकी मिट्टी को लेकर किस तरह की परख करनी चाहिए…

सफेद या हल्की पीली मिट्टी
जिस भूखंड की मिट्टी सफेदी लिए हुए होती है या हल्के पीले रंग की होती है, साथ ही उसमें मिट्टी की प्राकृतिक सौंधी खुशबू भी होती है, ऐसे प्लॉट पर मकान बनाकर रहनेवाले लोगों का जीवन सुखी और संपन्न रहता है। उनमें धार्मिकता, ज्ञान, बुद्धि, ऊंची और अच्छी सोच का विकास होता है।

लाल या हल्की लाल मिट्टी
जिस प्लॉट की मिट्टी लाल रंग की या हल्की लालिमा लिए हुए हो, ऐसे भूखंड पर घर बनाकर रहनेवाले लोगों में आमतौर पर धैर्य की कमी पाई जाती है। हालांकि ये लोग बहादुर और योद्धा होते हैं। अक्सर स्वयं हानि उठाकर दूसरों का भला कराने में रुचि रखते हैं।

पीली या हल्के हरे रंग की मिट्टी
यदि प्लॉट की मिट्टी पीली या हल्का हरा रंग लिए हुए मिट्टी हो और सख्त हो, ऐसी मिट्टी घर बनाने के लिए काफी शुभ होती है। इसकी सुगंध शहद की तरह भीनी होती है। ऐसे प्लॉट पर घर बनाकर रहनेवाले लोग घुमक्कड़ स्वभाव के और जुगाड़ द्वारा काम बनाने में माहिर होते हैं। ये लोग कड़ी मेहनत के बल पर अपना कारोबार बढ़ा लेते हैं।

काली या हल्का कालापन लिए हुए मिट्टी
जिस प्लॉट की मिट्टी काली या हल्का कालापन लिए हुए होती है, ऐसे जमीन के टुकड़े पर घर बनाकर रहनेवाले लोग बहुत मेहनती होते हैं। ये जीवनभर कठिन परिश्रम करते हैं और मेहनत के बल पर सबकुछ हासिल कर लेते हैं। लेकिन इनकी मेहनत का लाभ स्वयं इनसे अधिक दूसरे लोग उठाते हैं।

लाल और सफेद मिश्रण जैसी मिट्टी
जिस प्लॉट की मिट्टी में लाल और सफेद कणों की मिलावट मिलती है, ऐसे प्लॉट पर घर बनाकर रहनेवाले लोग बुद्धिमान और बलशाली होते हैं। ऐसे घरों में रहनेवाले लोग दूसरों पर कमांड करनेवाले होते हैं। जीवन का पूरा आनंद लेते हैं।

गंध से परिपूर्ण मिट्टी
ऐसी मिट्टी जिसमे मन को न भानेवाली गंध आती हो, इस तरह की मिट्टी पर घर बनाकर रहनेवाले लोगों में मानसिक अशांति रहती है। ये मेहनत तो बहुत करते हैं लेकिन मनचाही तरक्की नहीं हासिल कर पाते हैं। घर बनाकर रहने के लिहाज से यह मिट्टी सबसे खराब मानी जाती है। इनका पैसा और ज्यादातर समय फालतू के विवाद में खर्च होता रहता है।

परतोंवाली मिट्टी से बना भूखंड
ऐसा प्लॉट जिसकी मिट्टी कई परतों में हो और काफी कठोर हो। ऐसे प्लॉट पर घर बनाकर रहनेवाले लोगों में दयाभाव और बुद्धिमानी बहुत अधिक होती है। लेकिन दिल के बहुत छोटे होते हैं ऐसे लोग।