सिडनी । सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के शानदार शतक के बाद भी भारतीय टीम यहां शनिवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले एकदिवसीय क्रिकेट मैच में 34 रनों से हार गयी। इसी के साथ तीन मैचों की सीरीज में ऑस्ट्रेलिया ने 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। इस मैच में मेजबान ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवर में पांच विकेट खोकर 288 रन बनाए। इसके बाद लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम इंडिया 50 ओवर में 9 विकेट खोकर 254 रनों पर ही आउट हो गयी। इस दौरान अपने प्रमुख गेंदबाजों के बिना खेल रही ऑस्ट्रेलियाई टीम ने शानदार गेंदबाजी करते हुए भारतीय बल्लेबाजी क्रम को ध्वस्त कर दिया। रोहित शर्मा के 133 और अनुभवी महेन्द्र सिंह धोनी के 51 रनों के अलावा केवल भुवनेश्वर कुमार 29 और दिनेश कार्तिक ही 12 रन बना पाये। अन्य सभी बल्लेबाज दो अंकों तक भी नहीं पहुंच पाये। सलामी बल्लेबाज शिखर धवन खाता खोले बिना ही पहली गेंद पर ही पेवेलियन लौट गये। इसके बाद कप्तान विराट कोहली 3 जबकि अंबाति रायडु शून्य पर ही आउट हो गये। ऑलराउंडर रविन्द्र जडेजा भी 8 रन पर पेवेलियन लौट गये। ऑस्ट्रेलिया की ओर से रिचर्डसन ने चार जबकि स्टोइनिस और वेंडरहोफ ने दो-दो विकेट लिए। रिचर्डसन को 26 रन देकर चार विकेट लेन के लिए  मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला। 
इससे पहले उस्मान ख्वाजा, शॉन मार्श, पीटर हैंड्सकोब के अर्धशतकों की सहायता से मेजबान ऑस्ट्रेलिया ने भारत के खिलाफ पहले एकदिवसीय मैच में टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते पांच विकेट पर 288 रन बनाये। ऑस्ट्रेलिया की ओर से ख्वाजा ने 59, मार्श ने 54, हैंड्सकोब ने 73 रन बनाये जबकि स्टोइनिस ने 46 रनों का योगदान दिया। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए मेजबान टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। भुवनेश्वर ने पारी के तीसरे ओवर में कप्तान आरोन फिंच को छह रनों पर ही आउट कर मेजबानों को पहला झटका लिया। इस विकेट के साथ ही भूवी ने एकदिवसीय में अपने 100 विकेट का आंकड़ा पूरा किया। इसके बाद एलेक्स कैरी ने ख्वाजा के साथ स्केर आगे बढ़ाया। चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने कैरी को पेवेलियन भेजकर इस जोड़ी को तोड़ा। इसके बाद ख्वाजा, मार्श और हैंड्सकोब ने अच्छी पारियां खेलकर अपनी टीम को संभालने के साथ ही उसे बेहतर स्कोर बनाने में अहम भूमिका निभाई। 
मेजबान बल्‍लेबाजों ने अंतिम दस ओवर में 93 रन जोड़कर मैच में अपनी टीम को वापसी करायी। हैंड्सकॉम्‍ब ने सबसे ज्यादा 73 रन बनाये। ग्लैन मैक्सवेल 11 रन बनाकर नाबाद लौटे।
वहीं भारत की ओर से भुवनेश्‍वर और कुलदीप यादव ने दो-दो विकेट लिए। इसके अलावा एक विकेट रविंद्र जडेजा को मिला। इस मैच के अंतिम ग्यारह में टीम इंडिया ने तेज गेंदबाजों मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार और युवा खलील अहमद को रखा है। वहीं टीम में रविंद्र जडेजा और कुलदीप यादव को स्पिनर के तौर पर शामिल किया है।