नई दिल्ली।   टेक जायंट गूगल नए फीचर्स और सॉफ्टवेयर्स लॉन्च के साथ-साथ मौजूदा सॉफ्टवेयर्स को अपग्रेड करने में लगातार को‎‎शिश करता है। हाल ही में गूगल ने एक और नई अपडेशन की जानकारी दी है। ‎जिसमें गूगल के क्रोम इंटरनेट ब्राउजर में अब बिल्ट-इन ऐड ब्लॉकर मिलेगा। कंपनी ने इस फीचर को पिछले साल यूएस, कनाडा और यूरोप में लॉन्च किया था, अब यह ग्लोबली हर देश में यूजर्स को यह फैसे‎लिटी दने जा रहा है। गूगल के ऑफिशल स्टेटमेंट में कहा गया है, 'हमारा अंतिम लक्ष्य ऐड्स को फिल्टर करना नहीं, बल्कि सबके लिए हर जगह, एक बेहतर वेब तैयार करना है। क्रोम के साथ आकर कई वेबसाइट्स भी अपना डिजाइन और ऐड एक्सपीरियंस और भी बेहतर बना रही हैं। 1 जनवरी, 2019 तक सभी पब्लिशर्स की दो तिहाई वेबसाइट्स के ऐड-स्टैंडर्ड्स बेहतर हुए हैं। पहले जितनी साइट्स रिव्यू की गई थीं, उनमें से केवल 1% के ऐड्स फिल्टर्ड थे।' कंपनी ने एक ऑफिशल ब्लॉग में लिखा कि 9 जुलाई, 2019 से इस फीचर को सभी देशों के लिए लॉन्च कर दिया जाएगा। कंपनी ने पिछले साल कोलिशन फॉर बेटर ऐड्स नाम के ट्रेड ग्रुप की गाइडलाइन्स के हिसाब से ऐड-ब्लॉकिंग शुरू की थी। गाइडलाइन्स पॉप-अप्स और साउंड के साथ विडियो ऐड्स को रिस्ट्रिक्ट कर रही थीं। कंपनी ने यह भी कहा कि क्रोम अपने यूजर प्रोटेक्शन को भी बढ़ाएगा और उन साइट्स पर सभी ऐड दिखाना बंद कर देगा जो बार-बार हानिकारक ऐड्स दिखाती हैं। बता दें ‎कि गूगल ने इससे पहले अपने मैप्स ऐप और गूगल असिस्टेंट में भी बड़े फीचर्स ऐड करने की घोषणा की थी। असिस्टेंट भी अब पहले से ज्यादा स्मार्ट होगा और वॉयस कमांड देकर इंटरप्रेटर और फ्लाइट चेक-इन जैसी सर्विसेज इसकी सहायता से उपलब्ध कराई जाएंगी।