भोपाल। स्व. पं. रमेश बाकरे की स्मृति मेंं शनिवार को नादब्रह्म संगीत महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। रविंद्रनाथ टैगोर विश्व कला एवं सांस्कृतिक केंद्र, टैगोर विश्वविद्यालय द्वारा इसका आयोजन शहीद भवन के सभागार में शाम 6:00 बजे से किया जाएगा। 
नाद ब्रम्ह का उद्देश्य शास्त्रीय संगीत को बढ़ाना है। साथ ही नवनीत एवं प्रचलित कलाकरो को मंच प्रदान करना है। स्व. पं. बाकरे के कई शिष्य देश में संगीत को नए आयाम तक पहुंचा रहे हैं। इनमें पवन कलंबे (खैराग्रह विश्वविद्यालय में प्राध्यापक), नीलेश खोड़े (तबला वादक), सुनील राउत (इंडिया न्यूज संपादक डेल्ही) एवं बाकरे जी के पुत्र निखिल एवं शांतनु बॉलीवुड में उभरते हुए संगीतकार के रूप में स्थापित है। नादब्रह्म संगीत महोत्सव विगत तीन वर्षों से पं. बाकरे के जन्म स्थान ग्राम तिगांव, तहसील पांढुर्ना, जिला छिंदवाड़ा में आयोजित किया जा रहा है। इस साल नादब्रह्म का चौथा सोपान भोपाल में आयोजित किया जा रहा है। इसमें जानेमाने कलाकार शुभदा मराठे (शास्त्रीय गायन), निखिल बाकरे (शास्त्रीय गायन) एवं अमित मलिक (वायलीन वादक) प्रस्तुति देंगे।