जम्मू । घाटी में बढ़ती आतंकी घटनाओं पर नेशनल कान्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने ‎चिंता जा‎हिर की है। साथ ही आतंकवाद की ओर जम्मू-कश्मीर के युवाओं के बढ़ते झुकाव को देखते हुए इस बहुत बड़ी समस्या बतलाया। उमर ने कहा कि युवाओं के लिए नौकिरयों का सृजन नहीं होना एक बड़ी वजह है ‎जिसके चलते युवा आतंक की राह पर बढ़ने लगते हैं। इस मसले के हल करने का यही तरीका है ‎कि यहां के युवाओं को रोजगार के नए अवसर ‎मिलें। 
यहां एक कार्यक्रम में उन्होंने आरोप लगाया कि उनके मुख्यमंत्री रहने के दौरान  इस तरह की ग‎ति‎विधियां कम थी ले‎किन पहले के मुकाबले अभी हालात ज्यादा खराब हुए हैं। अभी बड़ी संख्या में ‘हर महीने’ युवा हथियार उठा रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मुख्यमंत्री के तौर पर मेरे कार्यकाल के दौरान चेनाब घाटी आतंकवाद मुक्त हो चुकी थी, लेकिन अभी वहां से भी आतंकवाद संबंधी खबरें आती हैं।'