नई दिल्ली :  टीम इंडिया के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह 6 दिसंबर को अपना 25वां जन्मदिन मना रहे हैं. टीम इंडिया में डेथ ओवर्स स्पेशलिस्ट माने जाने वाले जसप्रीत आज टेस्ट टीम का भी अहम हिस्सा हैं. वे लंबे समय से टीम इंडिया की वनडे और टी20 टीम के डेथ स्पेशलिस्ट रहे हैं, जबकि टीम इंडिया की टेस्ट टीम में उनका चयन एक साल पहले ही हुआ है. टेस्ट टीम में आने के बाद बुमराह ने पीछे मुड़कर नहीं देखा है. 

 आज से करीब एक साल पहले ही बुमराह को टीम इंडिया की टेस्ट टीम में जगह मिली थी.  उस समय दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए घोषित 17 सदस्यों की टीम में जसप्रीत बुमराह जगह पाने में सफल रहे थे. यार्कर के इस उस्ताद खिलाड़ी को दक्षिण अफ्रीका तेज और उछाल वाली पिचों पर बुमराह ने अपनी खासी उपस्थितिभी दर्ज की थी. यॉर्कर गेंदें बुमराह का खास हथियार हैं. यही कारण है कि दुनिया के कई खिलाड़ी उनकी लाइन और लैंथ की जमकर तारीफ कर चुके हैं. इससे पहले अब तक वे सिर्फ वनडे और टी20 के विशेषज्ञ बॉलर रहे थे. अब ने टेस्ट टीम में पक्की जगह बना चुके हैं.

वनडे में आज भी नंबर वन हैं बुमराह
जसप्रीत बुमराह वनडे के नंबर वन और टी20 के 21वें नंबर के गेंदबाज हैं. 2018 में टी20 में उन्होंने 8 मैचों  में केवल 8 विकेट लिए हैं. जबकि कुल 40 मैचों में उन्होंने 48 विकेट लिए हैं. वहीं वनडे में 42 मैचों में 78 विकेट ले चुके हैं. इस साल 13 वनडे में उन्होंने 22 विकेट लिए हैं.

इकोनोमी रेट है बुमराह का शानदार
बुमराह का वनडे में इकोनोमी जहां 4.44 है. वहीं टी20 में ये 6.77 है. खासकर बुमराह अंतिम ओवरों में पुरानी गेंदों के साथ बहुत खतरनाक साबित होते हैं. अब तो वह गेंदबाजी की शुरुआत भी करने लगे हैं. लंबे समय से मांग की जा रही थी, कि उन्हें टेस्ट टीम में शामिल किया जाए. वे पिछले साल ही टेस्ट टीम में शामिल किए गए और उन्हें दक्षिण अफ्रीका के दौरे के लिए चुन लिया गया. एक साल में छह टेस्ट खेलने वाले बुमराह का टेस्ट में औसत 25.57  है और 2.91 इकोनॉमी है. वे अब तक इन 6 टेस्ट में 28 विकेट ले चुके हैं और उन्होंने दो बार वे 5 विकेट भी लिए हैं. यह सारा रिकॉर्ड बुमराह का विदेशी पिचों पर ही है. 

विदेशी में बुमराह का शानदार रिकॉर्ड
अगर विदेशों में बुमराह के प्रदर्शन की बात करें तो वह अब तक वहां पर कमाल के फार्म में रहे हैं. उनका रिकॉर्ड बताता है कि बुमराह विदेशी पिच पर हर 13 गेंद पर विकेट लेते हैं. बुमराह ने विदेश में 15 मैच में 34 विकेट लिए हैं. यहां बुमराह का इकॉनमी रेट 3.73 है. बुमराह विदेश में 3 बार 4 विकेट और 1 बार 5 विकेट ले चुके हैं. 

बुमराह के बिना टीम इंडिया की गेंदबाजी अब अधूरी
बुमराह की इस साल की सबसे बड़ी उपलब्धि यही है कि उन्होंने टीम इंडिया की टेस्ट टीम में अपना स्थान पक्का कर लिया है. आलम यह हो गया है कि कंडीशन्स के मुताबिक टीम इंडिया के प्रमुख तेज गेंदबाजों का स्थान भले ही पक्का न हो, लेकिन जसप्रीत बुमराह अपनी तेजी सटीक यार्कर जैसी खूबियों की वजह से टीम में पक्के हो गए हैं. विराट कोहली के लिए अब टेस्ट टीम में भी उनके बिना गेंदबाजी संयोजन करना मुश्किल होता है.