आईसीसी विश्वकप में अब बस कुछ ही महीनों का समय रह गया है और सभी टीमों ने अपनी तैयारी तेज कर रखी है। भारत को अगले साल होने वाले विश्वकप जीतने के प्रबल दावेदार के रूप में देखा जा रहा है। इसके पीछे का मुख्य कारण एकदिवसीय क्रिकेट में भारतीय टीम का प्रदर्शन है। साल 2018 की शुरूआत में ही भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 5-1 से करारी शिकस्त दी थी।

इसके अलावा 2015 विश्वकप के बाद भारत ने सिर्फ 4 सीरीज गंवाई है और साल 2017 में इंग्लैंड में हुई चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में जगह बनाई थी। भारत ने लगातार अच्छा किया है और इसी वजह से अगले साल होने वाले विश्वकप के लिए भारत से काफी उम्मीदें हैं।

आइए उन 3 खिलाड़ियों के बारे में बात करते हैं जो विश्वकप के लिए भारत के लिए काफी महत्वपूर्ण होने वाले हैं:

1 विराट कोहली

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली मौजूदा समय के सबसे शानदार बल्लेबाजों में से एक हैं। 2019 में होने वाले विश्वकप में भारत को विराट कोहली से काफी ज्यादा उम्मीद होने वाली है और टीम के अहम बल्लेबाज भी होंगे।

कोहली ने 2016 में 10 मैचों में 739 रन बनाए, 2017 में उन्होंने 76.84 की औसत से 1460 रन बनाए और इस साल भी कोहली की औसत 100 से ऊपर हैं। इस समय वो रैंकिंग में नंबर एक बल्लेबाज हैं और जिस नंबर पर वो खेलने आते हैं, वो भी काफी महत्वपूर्ण हैं।

2 रोहित शर्मा

रोहित शर्मा मौजूदा समय में एकदिवसीय क्रिकेट में सबसे खतरनाक बल्लेबाजों में एक हैं। पिछले दो सालों में उनकी औसत 72 के करीब है और उन्होंने 10 शतक भी लगाए हैं। वो कोहली के बाद भारत के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी भी हैं। रैंकिंग में भी वो दूसरे नंबर पर हैं और वो वनडे में 6 बार 150 से ऊपर का स्कोर बनाने वाले भी इकलौते बल्लेबाज भी हैं।

इस बीच उन्होंने तीन दोहरे शतक भी लगाए हैं। विश्वकप में रोहित शर्मा के ऊपर काफी जिम्मेदारी होने वाली है और अगर वो टीम को अच्छी शुरूआत दिलाते हैं, तो निश्चित ही भारत भी अच्छा करेगा। रोहित और विराट को दबाव झेलना आता है, जोकि अहम मुकाबलों में काफी महत्वपूर्ण चीज होती है।

3 जसप्रीत बुमराह

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू के साथ ही जसप्रीत बुमराह ने अपने प्रदर्शन से सबको काफी प्रभावित किया है। बुमराह ने वनडे में 41 मैचों में 72 विकेट लिए हैं और उनकी औसत 21.77 की है। नई गेंद के साथ वो विकेट लेने में सक्षम हैं साथ ही में पुरानी गेंद के साथ वो जबरदस्त यॉर्कर गेंद डालते हैं, जिससे बल्लेबाजों को रन बनाने में मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।

उनकी इकोनॉमी रेट 4.54 का है जोकि एक तेज गेंदबाज के लिए काफी अच्छा है। खासकर इस बात को ध्यान में रखते हुए कि वो शुरूआत और डेथ ओवरों में गेंद करते हैं। वो इस समय भारतीय तेज गेंदबाजी विभाग के लीडर भी है और विश्वकप में टीम को उनसे काफी उम्मीद हैं। बुमराह और भुवनेश्वर कुमार की जोड़ी मौजूदा समय की सबसे खतरनाक गेंदबाजी जोड़ी में से एक हैं।

Sportskeeda Hindi provides you all the latest Cricket News in Hindi