पहले टी-20 मैच में चार रनों से जीत दर्ज करने के बाद ऑस्ट्रेलियाई हरफनमौला मार्कस स्टोइनिस ने कहा कि भारत को हराने के लिए हमने खास रणनीति बनाई थी. ब्रिस्बेन टी-20 के 'हीरो' स्टोइनिस ने कहा कि भारत के खिलाफ डेथ ओवरों में गेंद की रफ्तार कम करना उनकी रणनीति थी.
भारत को आखिरी ओवर में 13 रनों की जरूरत थी, लेकिन स्टोइनिस ने क्रुणाल पंड्या और दिनेश कार्तिक को लगातार दो गेंदों पर आउट करके ऑस्ट्रेलिया को जीत दिलाई.
मैच के बाद स्टोइनिस ने कहा ‘एरोन फिंच ने मुझसे बात की थी और कहा कि आखिरी ओवरों में मुझसे गेंदबाजी कराना एक विकल्प है, खासकर यदि एडम जांपा खेल रहे हैं. हमने गेंद की रफ्तार कम रखी और उन्हें लंबे चौके लगाने पर मजबूर किया.’ 
ग्लेन मैक्सवेल के साथ स्टोइनिस ने 37 गेंदों में 78 रनों की साझेदारी की. स्टोइनिस ने कहा कि टीम प्रबंधन ने उनकी क्षमता पर भरोसा जताया जिसकी उन्हें खुशी है. 
उन्होंने कहा ,‘बहुत मजा आया. मैंने पिछले दस टी-20 में अलग-अलग हालात में बल्लेबाजी की है. टीम प्रबंधन ने मुझ पर भरोसा जताकर पांचवें नंबर पर भेजा, हम अपनी रणनीति पर अमल करने में कामयाब रहे.’ स्टोइनिस ने 19 गेंदों पर नाबाद 33 रन बनाए.
उधर, भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने मैच गंवाने के बाद कहा कि इस हार का ज्यादा दुख नहीं होगा, क्योंकि सीरीज के बाकी बचे दो मैच जल्दी- जल्दी 23 और 25 नवंबर को खेले जाएंगे.