एक तरफ जहां देश में बुलेट और अन्य तेज रफ्तार ट्रेनों की चर्चा हो रही हैं, वहीं दूसरी ओर कुछ शहरों के लोग जान जोखिम में डालकर यात्रा कर रहे हैं. गुजरात के जूनागढ़ में लोग बेहद खराब हालात में ट्रेन की यात्रा कर रहे हैं.
गुजरात के जूनागढ़ से आई तस्वीरें बेहद खतरनाक हैं जहां लोग जिंदगी को दांव पर लगातर ट्रेन के ऊपर, नीचे, गेट पर, दो डिब्बों के बीच में और इंजन पर बैठकर यात्रा कर रहे हैं. 
व्यंग्यात्मक लहजे में कहे तो न्यू इंडिया की सरपट भागती ट्रेन में लोग रेल टिकट पर हवाई जहाज का मजा ले रहे हैं! लेकिन किसी भी पल ये उनकी जान पर भारी पड़ सकता है. 
ताज्जुब की बात ये भी है कि देश के विकसित राज्यों में शुमार गुजरात की ये हकीकत है.
धारी से जूनागढ़ आ रही ट्रेन ठसाठस भरी हुई थी और लोग चारों तरफ ट्रेन पर सवार थे.
हालांकि खतरनाक स्थिति के बाद भी कोई प्रशासनिक अधिकारी इस पर गौर नहीं कर सका. 
सुरक्षा के लिहाज से लोगों को ट्रेन के इंजन और छत पर बैठने की अनुमति नहीं दी जा सकती. लेकिन यहां किसी भी अधिकारी ने कार्रवाई नहीं की. 
भीड़ इतनी थी ट्रेन के अंदर पैर रखने की जगह नहीं थी. तस्वीरों में महिला और बच्चे भी ट्रेन की छत पर चढ़े हुए दिख रहे हैं.
असल में हर साल कार्तिक पूर्णिमा पर भक्त परिक्रमा के लिए गिरनार पहुंचते हैं. स्थानीय लोगों के मुताबिक, हर साल ट्रेन की ऐसी ही हालत होती है.
लोगों का कहना है कि प्रशासन के लोग जानते हैं कि इस रूट पर चार दिन तक ऐसा ही रहेगा. फिर भी अलग से कोई इंतजाम नहीं किया जाना, कई सवाल उठाता है. 
सोशल मीडिया पर भी ठसाठस भरी हुई ट्रेन की फोटोज लोग शेयर कर रहे हैं और रेलवे प्रशासन पर सवाल उठा रहे हैं.