चुकंदर खाना सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है। कुछ लोग जहां सलाद के रूप में इसका सेवन करते हैं तो कुछ लोग इसे जूस के रूप में अपनी डाइट में शामिल करते हैं। शोधकर्ताओं का मानना है कि चुकंदर के जूस में नाइट्रेट होता है, जो मांस पेशियों को मजबूत बनाता है। पहले हुई रिसर्च में पता चला था कि डाइट में नाइट्रेट की मात्रा शामिल करने से एथ्लीट्स की मांस पेशियों में सुधार होता है। चुकंदर का जूस, पालक और अन्य हरी सब्जियों में मौजूद नाइट्रेट, शरीर में जाकर नाइट्रिक एसिड में बदलता है। यह रक्त कोशिकाओं को रिलेक्स करते हुए मैटाबॉलिज्म को फायदा पहुंचाता है। चुकंदर खाने से शरीर में खून की कमी नहीं होती और आपका शुगर लेवल भी सही रहता है। चुकंदर में मौजूद आयरन, सोडियम, पोटेशियम, फास्फोरस शरीर को ताकत देने के साथ ही आपको बीमारियों से भी दूर रखते हैं।

एनीमिया में चुकंदर का इस्तेमाल सबसे ज्यादा लाभदायक है। चुकंदर में पर्याप्त मात्रा में आयरन, विटामिन और मिनरल्स होते हैं, जो खून बढ़ाने और उसे साफ करने का काम करते हैं। महिलाओं को खून की कमी ज्यादा होती है। इसलिए महिलाओं को डाइट में चुकंदर जरुर लेना चाहिए।

चुकंदर में फाइबर होता है इसलिए यह कब्ज को दूर करने के लिए दवाई का काम करता है। यह कब्ज को दूर करने का सबसे अच्छा उपाय है। इससे खाना भी जल्दी पच जाता है। इसमें कैलोरी काफी कम होती है और एंटीऑक्सीडेंट व फाइबर अधिक होता है जिससे आप आसानी से अपना वजन कम कर सकते हैं।
चुकंदर में नाइट्रेट्स की मात्रा खूब होती है, जिससे इसे खाने से नाइट्राइट्स और गैस नाइट्रिक ऑक्साइड में बदल जाता है। ये दोनों ही चीजें हमारी धमनियों को चौड़ा करने और ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करती हैं।
चकुंदर को खाने से दिल के दौरे आने की समस्या में भी फायदा होता है। चुकंदर में फाइबर, फ्लेवोनॉयड्स और बेटासायनिन काफी मात्रा में मौजूद होता है। इसलिए इसका रंग लाल और बैंगनी होता है। यह एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है।
चुकंदर खाने से एनर्जी लेवल बढ़ता है. इसके साथ ही इसमें मौजूद नाइट्रेट तत्व धमनियों का विस्तार करने में मदद करता है।