वाशिंगटन । अमेरिका ईरान को रासायनिक हथियारों पर प्रतिबंध की अंतर्राष्ट्रीय संधि के उल्लंघन का आरोपी ठहराने में जुटा है। दो अमेरिकी अधिकारियों ने यह बात कही। अधिकारियों ने कहा कि अमेरिकी सरकार अगले हफ्ते यह घोषणा करने की योजना बना रही है कि ईरान 1997 के रासायनिक हथियार समझौते का पालन नहीं कर रहा है, जिसके तहत रासायनिक हथियारों का उत्पादन, संचय और इस्तेमाल गैरकानूनी है। अधिकारियों के मुताबिक ईरान ने रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल नहीं किया है, लेकिन उसके पास हथियारों के उत्पादन के लिए सामग्री और उपकरण मौजूद हैं। ईरान पर यह आरोप हालिया खुफिया जानकारी पर आधारित है। जांच अधिकारी सार्वजनिक तौर पर इस मसले पर कुछ नहीं बोल सकते और नाम ना बताने की शर्त पर उन्होंने जानकारी दी।
ईरान को आरोपी ठहराए जाने के साथ ही उसपर अमेरिका की ओर से तुंरत कोई जुर्माना नहीं लग सकता है लेकिन इस आधार बनाकर उसके खिलाफ रासायनिक हथियारों के प्रतिबंध से जुड़े संगठन में शिकायत दर्ज कराई जा सकती है। यह आरोप ईरान को अलग थलग करने की कोशिशों में से एक हैं। अमेरिका मई में ईरान के साथ 2015 में हुए परमाणु समझौते से अलग हो गया था और इस महीने की शुरूआत में उसने ईरान पर दोबारा प्रतिबंध लगा दिए थे।