बॉलीवुड में मीटू कैंपेन की चपेट में अनेक कलाकार आ चुके हैं, ऐसे में जो नाम वाले थे वो भी इसकी जद में दिख रहे हैं। ऐसे ही फिल्मी दुनिया में संस्कारी बाबूजी के नाम से पहचाने जाने वाले एक्टर आलोक नाथ के खिलाफ आखिरकार सिने एंड टीवी आर्टिस्ट्स एसोसिएशन यानी सिंटा ने एक्शन लिया है। गौरतलब है कि फिल्म और टीवी से जुड़ी अनेक महिला कलाकारों ने आलोक नाथ के खिलाफ यौन शोषण का आरोप लगाया था। यही वजह है कि अब सिंटा ने आलोक नाथ के खिलाफ एक्शन लिया और उन्हें संगठन से बाहर कर दिया। सोशल मीडिया पर इस संबंध में लेटर जारी किया गया है। सिंटा ने अपने ट्विटर एकाउंट पर जारी एक आधिकारिक बयान में कहा है कि 'मिस्टर आलोक नाथ पर यौन शोषण और दुर्व्यवहार के अनेक आरोप लगे हैं, जिन्हें ध्यान में रखते हुए सिंटा उन्हें संगठन से निष्कासित करती है।' इस प्रकार यह पहला मामला है जबकि सिंटा ने यौन उत्पीड़न के आरोपों के चलते किसी पर कड़ी कार्रवाई की है। गौरतलब  है कि मीटू मूवमेंट के तहत ही डायरेक्टर और प्रोड्यूसर विनता नंदा ने आलोक नाथ पर रेप जैसा गंभीर आरोप लगाया था। विनता ने अपनी कहानी सुनाते हुए कहा था कि 'एक पार्टी में शामिल होने के लिए वो आलोक नाथ के जब घर गईं तो उसी दौरान उन्होंने ड्रिंक में कुछ मिला दिया और फिर घर छोड़ने की पेशकश की। यही नहीं इसके बाद तो मेरे मुंह में और ज्यादा शराब डाली गई और मेरे साथ काफी हिंसा की गई।' विनता की मानें तो घटना की जानकारी आलोकनाथ की पत्नी का भी है, क्योंकि उन्होंने खुद उन्हें बताया था, लेकिन उन्होंने भी कुछ नहीं कहा था। बहरहाल अब जबकि सिंटा ने बड़ा कदम उठाया है तो अन्य जिन कलाकारों पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगे हैं या लग रहे हैं उन पर भी इसी प्रकार की कोई सख्त कार्रवाई की जा सकती है। इससे एक बार फिर सभी की निगाहें मीटू कैंपेन पर टिक गई हैं और लोग इंतजार कर रहे हैं कि अब किसकी बारी आने वाली है।