दिवाली के ठीक बाद गोवर्धन  (Govardhan Puja 2018) व अन्नकूट पूजा की जाती है. इस दिन शाम के समय खास पूजा का आयोजन किया जाता है. गोवर्धन पूजा करने के पीछे धार्मिक मान्यताएं हैं. इसके मुताबिक इसी दिन भगवान श्रीकृष्ण ने इंद्र का मानमर्दन कर गिरिराज की पूजा की थी. इस दिन मंदिरों में अन्नकूट किया जाता है.
गोवर्धन पूजा के दिन इसलिए भगवान कृष्ण और गाय की पूजा की जाती है. इस दिन धन दौलत, गाड़ी, अच्छे मकान  के लिए कृष्ण जी और मां लक्ष्मी को प्रसन्न किया जाता है, ताकि नौकरी या व्यापार में खूब तरक्की मिल सके. गोवर्धन पूजा के दिन राशि अनुसार कृष्ण भगवान को प्रसन्न करें. ऐसा करने से कई लाभ होते हैं.