मुंबई: पूर्व बल्लेबाज विनोद कांबली का मानना है कि स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर जैसे दिग्गजों के उपलब्ध नहीं रहने के कारण भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आगामी सीरीज में जीत के प्रबल दावेदार के रूप में शुरुआत करेगा. विराट कोहली की शानदार फॉर्म से प्रभावित कांबली ने भारतीय कप्तान की जमकर तारीफ की और कहा कि वह रनों का भूखा है तथा मैदान पर अपना शत-प्रतिशत योगदान देता है. 

विनोद कांबली ने एक इंटरव्यू में कहा, ''हमारी बहुत अच्छी संभावना है. हम इस सीरीज (ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ) को जीतने जा रहे हैं. उसके दो मुख्य बल्लेबाज (स्मिथ और वॉर्नर) नहीं खेलेंगे और इसका हमें पूरा फायदा उठाना चाहिए.''  स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर दक्षिण अफ्रीका में गेंद से छेड़छाड़ के मामले के कारण एक साल का प्रतिबंध लगा हुआ है. 

भारतीय टीम इस महीने ऑस्ट्रेलिया के लंबे दौरे पर जाएगी जहां वह तीन टी-20, चार टेस्ट और तीन एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेलेगी. पहला टेस्ट मैच एडिलेड में छह दिसंबर से खेला जाएगा. 
विनोद कांबली ने युवा सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ की भी तारीफ की, जिन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ अपने टेस्ट करियर की शानदार शुरुआत की. कांबली ने कहा, ''वह स्ट्रोक प्लेयर है और लगातार रन बनाना पसंद करता है. असल में उसे शॉट खेलना पसंद है. उसको यही सलाह है कि वह अपना नैसर्गिक खेल खेले.'' 
सचिन तेंदुलकर ने कहा, स्मिथ-वार्नर के न होने से भारत के लिए शानदार मौका
महान बल्लेबाज सचिन का मानना है कि दो अहम खिलाड़ियों स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर के आस्ट्रेलियाई टीम का हिस्सा नहीं होने के कारण भारत के पास इस देश के दौरे पर कुछ विशेष करने का बेहतरीन मौका है. आगामी दौरे में भारत की संभावनाओं के बारे में पूछे जाने पर तेंदुलकर ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि हमारे पास बड़ा मौका है (आस्ट्रेलिया में). आपने (रिपोर्टर ने) सही पूछा, आस्ट्रेलियाई टीम उस तरह की टीम नजर नहीं आती जैसी हुआ करती थी और स्मिथ तथा वार्नर भी नहीं हैं. यह वहां जाकर कुछ विशेष करने का बेहतरीन मौका है.’’ 
21 नवंबर से शुरू होगी सीरीज
भारत दौरे की शुरुआत तीन टी20 मैचों के साथ करेगा जिसके बाद छह दिसंबर से एडिलेड में चार मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जाएगी. मार्च में दक्षिण अफ्रीका में गेंद से छेड़छाड़ प्रकरण में भूमिका के कारण स्मिथ और वार्नर पर एक-एक साल जबकि कैमरन बेनक्राफ्ट पर नौ महीने का प्रतिबंध लगाया गया था.