श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकी ढेर हो गए. उनमें से एक आतंकी, पहले सेना में था जो बाद में आतंकी संगठन में शामिल हो गया था. पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि दक्षिण कश्मीर के जैनापोरा के सफानगरी इलाके में आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिलने पर सुरक्षा बलों ने मंगलवार को तड़के घेराबंदी की और तलाशी अभियान चलाया था. उन्होंने बताया कि जब तलाशी अभियान चल रहा था तब छिपे हुए आतंकियों ने बल पर गोलीबारी की. जवानों ने जवाबी गोलीबारी की जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई और दो आतंकी मारे गए.

मारे गए आतंकियों की पहचान मोहम्मद इदरिस सुल्तान उर्फ छोटा अबरार और आमिर हुसैन राथर उर्फ अबु सोबान के रूप में की गई. सुल्तान सफानगरी शोपियां का रहने वाला था जबकि सोबान अवनीरा शोपियां का रहने वाला था. उन्होंने बताया कि वे प्रतिबंधित आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन से जुड़े थे. सुरक्षा प्रतिष्ठानों पर हमलों और इलाके में नागरिकों पर कई अत्याचारों की घटनाओं में उनका हाथ था.’’ 

प्रवक्ता ने बताया कि सुल्तान सेना से भाग गया था और इस साल अप्रैल में आतंकी संगठन में शामिल हो गया. उन्होंने कहा कि अभियान के दौरान इर्दगिर्द कोई नुकसान नहीं पहुंचा. मुठभेड़ स्थल से गोला-बारूद बरामद किए गए. उन्होंने लोगों से अपील की है कि मुठभेड़ स्थल की जब तक पूरी तरह सफाई नहीं कर दी जाए, तब तक वे वहां नहीं जाएं. 
आपको बता दें कि जम्‍मू-कश्‍मीर के कुलगाम में 20 अक्टूबर की रात से आतंकियों से जारी मुठभेड़ में रविवार को सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली. रविवार सुबह सुरक्षा बलों ने यहां एक घर में छिपे 3 आतंकियों को मार गिराया है. सूत्रों के अनुसार मारे गए तीनों आतंकियों में से दो आतंकी पाकिस्‍तान के थे. इस गोलीबारी में एक नागरिक की भी मौत हो गई. इस व्‍यक्ति का नाम उबैद लावे बताया जा रहा है.