बेंगलुरु: क्रिकेट के मैदान पर लगातार नए कीर्तिमान स्थापित कर रहे विराट कोहली के प्रशंसकों में दिग्गज क्रिकेटर ब्रायन लारा भी शामिल हो गए हैं, जिन्होंने शनिवार को यहां भारतीय कप्तान विराट कोहली को इस समय खेल का नेतृत्वकर्ता करार दिया. लारा ने एक इंटरव्यू में कहा, ''कोहली आज के दौर में जो भी कर रहे हैं वह असाधारण है. इसमें उनके रन बनाने की गति, फिटनेस का ध्यान रखना और कई अलग-अलग चीजों को महत्व देना शामिल है. मौजूदा समय में खेल के इस नेतृत्वकर्ता को देखना अच्छा है.'' 

कृष्णपत्तनम पोर्ट गोल्डन ईगल्स गोल्फ चैंपियनशिप के लिए यहां पहुंचे ब्रायन लारा ने कोहली और सचिन तेंदुलकर की तुलना पर चर्चा करने से इनकार कर दिया. लारा ने कहा, ''अगर आप सचिन और मेरी बात करेंगे तो आपने हमारे बारे में काफी पढ़ा होगा और आप कई बार दोनों की तुलना के बारे में सुनते थे लेकिन हमारे लिये कभी भी यह महत्वपूर्ण नहीं रहा.''

उन्होंने कहा, ''मैं इस बात को लेकर आश्वस्त हूं कि कोहली भी ऐसी चीजों पर ध्यान नहीं देते हैं. हर कोई अलग-अलग दौर में खेला और आपको सबका सम्मान करना चाहिए.'' 
सचिन ने भी बताया, विराट को महानतम खिलाड़ियों में से एक
विराट कोहली जिस तेजी से महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्डों की तरफ बढ़ रहे है, उससे खुद मास्टर ब्लास्टर ने भी हैरानी जताते हुए कहा कि भारतीय टीम के मौजूदा कप्तान महानतम खिलाड़ियों में से एक हैं लेकिन वह ‘तुलना में विश्वास’ नहीं करते. हाल ही में सचिन तेंदुलकर ने कहा था, ''एक खिलाड़ी के तौर पर विराट के विकास की बात करें तो मुझे लगता है कि उसने काफी तेजी से सुधार किया है. मुझे हमेशा लगता था कि उसमें अच्छा करने की ललक है और मुझे शुरू से ऐसा लगता था कि वह दुनिया के शीर्ष बल्लेबाजों में शामिल होगा. वह भी सिर्फ इस सदी के नहीं बल्कि सर्वकालिक महान खिलाड़ियों में से एक होगा.'' 
उन्होंने कहा था, ''इस (कोहली को सर्वकालिक महान खिलाड़ी बताना) पर हर किसी की अपनी सोच है. अगर किसी को तुलना करनी हो तो मैं उसमें दखल नहीं करना चाहूंगा क्योंकि 60, 70 और 80 के दशक के अलग तरह के गेंदबाज थे, जब मैं खेलता था तब और आज के दौर में भी गेंदबाजी अलग-अलग तरह की हो गई है.'' 

वहीं, दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान ग्रीम स्मिथ का मानना है कि विराट कोहली सुपरस्टार हैं. उनका कहना है कि विराट ऐसे देश में टेस्ट क्रिकेट को प्रासंगिक बनाए हुए हैं, जो आईपीएल और टी-20 को पसंद करता है. यह बहुत बड़ी बात है. जब तक एक सुपरस्टार के रूप में विराट टेस्ट क्रिकेट को प्रमोट करते रहेंगे, तब तक हम टेस्ट क्रिकेट को प्रासंगिक बनाए रखने में कामयाब रहेंगे.