प्रदेश में विधानसभा चुनाव की साल के अंत में होने वाले हैं. चुनाव से पहले ही सभी पार्टियों ने कमरकस ली है. प्रदेश में विधानसभा की 230 सीटों में से इंदौर में कुल 9 विधानसभा सीटे हैं जिसमें इंदौर-1 सीट पर फिलहाल बीजेपी का कब्जा है. बीजेपी के सुदर्शन गुप्ता इस सीट से वर्तमान में विधायक हैं. वहीं कांग्रेस इस सीट पर लगातार तीन बार हार चुकी है. इंदौर की इंदौर-1 सीट पर करीब 3 लाख वोटर अपना प्रतिनिधि चुनते हैं.चुनाव से पहले ही कांग्रेस और भाजपा दोनों ही पार्टियों का प्रदेश दौरा शुरू हो चुका है. प्रधानमंत्री लगातार प्रदेश दौरे के लिए राजधानी भोपाल से लेकर इंदौर तक आ चुके हैं. वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी चुनाव से पहले तीन बार मध्य प्रदेश की जनता के बीच अपनी जगह बनाने की कोशिश में लगे हुए हैं.

भाजपा जहां शिवराज सरकार को बचाने की पूरी तैयारी कर चुकी है तो वहीं कांग्रेस भी प्रदेश की सत्ता में 15 साल बाद वापसी के लिए तैयार है.मध्यप्रदेश की ज्यादातर सीटों पर बीजेपी और कांग्रेस के बीच कड़ा मुकाबला है. लेकिन इस बार समाजवादी पार्टी के साथ ही बहुजन समाजवादी पार्टी और आप भी चुनावी मैदान में टक्क देने के लिए आ चुकी हैं.

इस सीट पर 2003 से बीजेपी की सरकार है और इससे पहले 10 साल तक कांग्रेस ने राज किया था. 2013 के विधानसभा चुनाव में कुल 230 विधानसभा सीटों में से बीजेपी ने 165 सीटें जीतकर सरकार बनाई थी. कांग्रेस 58 सीटों तक सिमट गई थी. जबकि बसपा ने 4 और अन्य ने 3 सीटों पर जीत हासिल की थी.2013 चुनाव के नतीजेबीजेपी से सुदर्शन गुप्ता- 99558 वोटनिदर्लीय से कमलेश खंडेलवाल- 45382 वोटकांग्रेस से प्रदीप यादव- 37595 वोट2008 चुनाव के नतीजेबीजेपी से सुदर्शन गुप्ता- 61047 वोटकांग्रेस से संजय शुक्ला- 52864 वोट