मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीएसपी और सपा से गठबंधन पर दांव खाने के बाद कांग्रेस ने 230 सीटों में से 80 सीटों पर अपने प्रत्याशियों के नाम तय कर लिए हैं. हालांकि, पार्टी ने अभी इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं की है. केंद्रीय चुनाव समिति की दिल्ली में हुई बैठक के बाद यह खबर सामने आई है. वहीं, मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस इस मोर्चे पर बीजेपी से आगे जाती दिख रही है.

उधर, पार्टी सूत्रों से छनकर आ रही खबरों के अनुसार, कांग्रेस पार्टी ने इन सीटों पर प्रत्याशियों के नाम पर लगभग मुहर लगा दी है. बताया जा रहा है कि तय किए गए नामों में अंतिम समय में बदलाव भी किया जा सकता है. इसके पीछे का कारण पार्टी में जारी आपसी खींचतान बताया जा रहा है. 

नहीं दिया गया पैराशूट प्रत्याशियों को टिकट- कांग्रेस
इस विषय में बात करते हुए मध्य प्रदेश कांग्रेस प्रभारी दीपक बावरिया ने कहा कि सभी नाम सर्वानुमत से फाइनल किए गए हैं. बाकी बची सीटों पर भी आगामी एक सप्ताह में नाम तय कर लिए जाएंगे. उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पहले ही साफ कर दिया था कि पैराशूट प्रत्याशियों को टिकट वितरण में महत्व नहीं दिया जाएगा. इस 80 नामों में कोई भी पैराशूट प्रत्याशी नहीं है. उन्होंने बताया कि इन तय किए गए नामों में से 50 फीसदी मौजूदा समय में विधायक हैं. साथ ही केंद्रीय चुनाव समिति ने इस लिस्ट में नए चेहरों को तवज्जो दी है. बावरिया ने बताया कि इस लिस्ट में किसी भी बड़े नेता का नाम फाइनल नहीं किया गया है.