नई दिल्‍ली: बॉलीवुड में इन दिनों मी टू कैंपेन के तहत कई बड़े-बड़े लोगों का नाम यौन शोषण के मामले में सामने आया है. लेकिन अब एक्‍ट्रेस चित्रांगदा सिंह ने अपने साथ हो रहे शोषण के दौरान अपने को-स्‍टार नवाजुद्दीन सिद्दीकी की चुप्‍पी पर सवाल उठाए हैं. दरअसल पिछले साल अगस्‍त में रिलीज हुई फिल्‍म 'बाबूमोशाय बंदूकबाज' के लिए चित्रांगदा काफी सुर्खियों में आई थीं. इस फिल्‍म में पहले चित्रांगदा ही नवाजुद्दीन के साथ नजर आने वाली थीं, लेकिन बाद में उन्‍होंने यह फिल्‍म छोड़ दी और उनकी जगह एक्‍ट्रेस बिदिता बाग नजर आई थीं.

ऐसे में अब इस फिल्‍म से जुड़ी अपनी बात रखते हुए चित्रांगदा ने कहा कि उन्‍हें इस फिल्‍म में न्‍यूड सीन देने के लिए कहा गया था. चित्रांगदा ने कहा कि 'बाबुमोशाय बंदूकबाज' के निर्देशक कुशाण नंदी ने उनसे कहा था, 'वह अपनी साड़ी उतारें और सिर्फ पेटीकोट पहनकर अपने शरीर को एक्‍टर के शरीर पर रगड़ें.' चित्रांगदा ने ऐसा करने से मना कर दिया और निर्देशक को बताया कि वह इस तरह के सीन करने में सहज नहीं हैं. लेकिन चित्रांगदा की बात सुनने के बाद उनकी मदद करने के बजाए डायरेक्‍टर ने उनसे कहा कि कुछ भी हो जाए सीन शूट करना ही पड़ेगा. यह सुनते ही वह अपनी वैनिटी वैन में चली गईं और रोने लगीं.
अपनी इस घटना के साथ ही चित्रांगदा ने अब खुलासा किया है कि कैसे इस पूरी घटना के दौरान उनके एक्‍टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी वहीं खड़े थे और जब उनका इस तरह से उत्‍पीड़न हो रहा था वह चुपचाप खड़े थे. चित्रांगदा ने एक वेबसाइट को दिए अपने इंटरव्‍यू में कहा, 'उन्‍होंने (निर्देशक कुषाण नंदी) मुझसे नहीं पूछा कि मैं यह कर पायुंगी या नहीं. उन्‍होंने बस पूछा, 'क्‍या तुम यह सीन कर रही हो? मैंने कहा, 'नहीं' और वह चले गए. नवाज ने मेरे साथ हुए इस शोषण पर कोई स्‍टैंड नहीं लिया. जब इस तरह के लोग स्‍टैंड नहीं लेंगे तो इंडस्‍ट्री में ऐसे उत्‍पीड़न करने वालों को एक ताकत मिलती है.'