भोपाल। विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी भाजपा के लिए अच्छी खबर नहीं है। प्रदेश के समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष पद्मा शुक्ला ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने पार्टी अध्यक्ष राकेश सिंह को पत्र लिखकर अपनी लगातार उपेक्षा की बात कही है। कांग्रेस ने अधिकृत घोषणा की है कि पद्मा शुक्ला दोपहर में प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ की मौजूदगी में कांग्रेस में शामिल होंगी।

जानकारी के मुताबिक मप्र राज्य समाज कल्याण बोर्ड (कैबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त) की अध्यक्ष पद्मा शुक्ला ने पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। इसी के साथ उन्होंने बोर्ड के अध्यक्ष पद से भी इस्तीफा दे दिया है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह को लिखे पत्र में पद्मा शुक्ला ने लिखा कि वे 1980 से पार्टी की सदस्य रहीं हैं और पार्टी ने जो भी दायित्व दिए उनका निर्वहन किया। लेकिन उनके विजयराघवगढ़ विधानसभा क्षेत्र में पार्टी द्वारा 2014 से लगातार उपेक्षा हो रही है। इसी से क्षुब्ध होकर वे पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे रही हैं। उन्होंने समाज कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष पद से भी इस्तीफा देने की घोषणा की।

 

इधर कांग्रेस ने अधिकृत घोषणा की है कि पद्मा शुक्ला दोपहर में प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ की मौजूदगी में कांग्रेस में शामिल होंगी। आपको बता दें कि पद्मा शुक्ला ने पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा की ओर से संजय पाठक के खिलाफ चुनाव लड़ा था। बाद में संजय पाठक भाजपा में शामिल होकर मंत्री बन गए। उसके बाद से पद्मा शुक्ला और उनके समर्थक हाशिए पर हैं।

बहरहाल पद्मा शुक्ला के इस्तीफे को भाजपा के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है क्योंकि इस क्षेत्र में वे भाजपा की मजबूत नेता मानी जाती रही है।