सूरतः  देश की पहली बुलेट ट्रेन 2022 में चलेगी और बुलेट ट्रेन से जुड़ी हर बाद बेहद खास होगी. सरकार की पूरी कोशिश है कि बुलेट ट्रेन से जुडे हर पहलू पर आधुनिकता और भारतीयता की पहचान नजर आए . यही वजह है कि बुलेट ट्रेन के हर स्टेशन के रुप में जहां आधुनिक सुख सुविधाएं होंगी तो वहीं स्टेशन के डिजाइन में उस जगह की खासियत को शामिल किया गया है . तो कैसे होंगे बुलेट ट्रेन के स्टेशन और क्यों इस पर हम सभी को गर्व होगा..आपको बताते हैं कि इस ट्रेन क्या कुछ खास होगा.

बुलेट ट्रेन के स्टेशन वर्ल्ड क्लास तो होंगे लेकिन इसमें पूर्ण भारतीयता झलकेगी. बुलेट ट्रेन को लेकर लगभग सभी स्टेशनों का डिजाइन फाइनल हो गया है. डिजाइन तय करते वक्त इस बात पर साफ तौर गौर किया गया है कि स्टेशन आधुनिक तो हों, लेकिन उसमें इलाके की विशेषता या पहचान साफ तौर पर नजर आनी चाहिए .

बुलेट ट्रेन के स्टेशन के डिजाइन के मुताबिक
बुलेट ट्रेन का सूरत स्टेशन वडोदरा स्टेशन डायमंड थीम पर नजर आएगा. इसमें वट वृक्ष की झलक होगी. साथ ही गुजरात का वापी स्टेशन बहते नदी या पानी की थीम पर बनेगा. साबरमती स्टेशन की बात करें तो इसमें महात्मा गांधी की दांडी यात्रा की झलक होगी.
यही नहीं NHRCL यानि नेशनल हाई स्पीड रेल कॉरपोरेशन बहुत जल्द बुलेट ट्रेन के बिलिमोरा स्टेशन का डिजाइन भी फाइनल करने वाला है. माना जा रहा है कि स्टेशन की थीम मैंगरोव पर आधारित रहेगी. कॉरपोरेशन साल के अंत तक साबरमती स्टेशन के लिए काम को लेकर टंडर जारी कर देगी .कुल मिलाकर सरकार औऱ एजेंसी बडे लक्ष्य को हासिल करने के लिए तेजी से कदम बढा रही है .