बिलासपुर। व्यापार विहार स्थित पंडाल में विराजी 51 फीट की गणपति की प्रतिमा भक्तों में आस्था के साथ ही आकर्षण का केंद्र बनी हुई है। यहां वे दूल्हे राजा के रूप में नजर आ रहे हैं। वहीं समिति का दावा है कि यह देश की दूसरे नंबर की बड़ी प्रतिमा है। पहले नंबर पर हैदराबाद की 55 फीट की प्रतिमा है।

गौरीगणेश सेवा समिति की ओर से इसे स्थापित किया गया है। समिति प्रमुख अजय शुक्ला ने बताया कि उसे तैयार होने में तीन माह लगा और पूरी तरह से मिट्टी से बनी है। उनका कहना है कि छठवें वर्ष विराजी प्रतिमा लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में भी जगह बना चुकी है।
ये है खास-
ऊंचाई 51 फीट

चौड़ाई 40 फीट
काली मिट्टी 20 हाइवा

समय लगा तीन महीने
निर्माण किया 20 कारीगरों ने