भोपाल। इंद्रपुरी में कॉलसेंटर के जरिए अमेरिकन लोन डिफाल्टरों से ठगी के मामले में पकड़े गए अभिषेक पाठक, रामपालसिंह जेल में हैं। इनकी निशानदेही पर जयपुर से पकड़ाए टीकम थेनुआ से सायबर पुलिस सघन पूछताछ कर रही है।

एसपी सायबर क्राइम राजेशसिंह भदौरिया ने बताया कि टीकम ने बताया कि वह जयपुर में कॉल सेंटर के जरिए कनाडा के लोन डिफाल्टरों को शिकार बनाता था। उसके गिरोह ने एक साल में सेटलमेंट के नाम पर कनाडा के करीब 7 हजार लोगों से लाखों रुपए विभिन्ना अकाउंट में जमा कराए हैं। इस दौरान उसके खाते में कमीशन के 30 लाख रुपए मिले हैं। एसपी के मुताबिक टीमक थेनुआ के पास से बरामद कनाडा के नागरिकों का डाटा जयपुर पुलिस के पास है। उसके कॉल सेंटर में काम करने वाले 15 कर्मचारियों को भी जयपुर पुलिस ने गिरफ्तार किया है।
गौरतलब है कि टीकम इंद्रपुरी से कॉल सेंटर चलाने वाले अभिषेक पाठक को तकनीकी सहायता के अलावा अमेरिकन नागरिकों का डाटा उपलब्ध कराता था। पुलिस उसके गिरोह में शामिल अन्य लोगों के बारे में टीकम से पूछताछ कर रही है।