नई दिल्ली: कभी अपनी तूफानी गेंदबाजी से बल्लेबाजों को डराने वाले मिचेल जॉनसन अब रफ्तार के नए खेल में हाथ आजमाएंगे. 36 साल के जॉनसन अब मोटर रेसिंग में हिस्सा लेने की योजना बना रहे हैं. ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज ने पिछले महीने ही क्रिकेट को अलविदा कहा है. जॉनसन ने 153 वनडे, 73 टेस्ट और 30 टी20 मैच खेल चुके हैं.

मुझे शुरू से पसंद थी कार रेसिंग
मिचेल जॉनसन ने कहा कि उन्हें शुरू से ही कार रेसिंग पसंद थी. यह एक जुनून था, जिसे वे आजमाना चाहते थे. अब क्रिकेट से संन्यास के बाद इसके लिए वक्त मिला है. इसलिए अब वे रफ्तार के इस खेल के रोमांच का हिस्सा बनना चाहते हैं. वे जानते हैं कि यह आसान नहीं है, लेकिन वे नए चैलेंज के लिए तैयार हैं. जॉनसन ने बताया कि उन्होंने एक बार चैरिटी प्रोग्राम के लिए रेसिंग की थी. तभी प्रोफेशनल रेसर बनने का ख्याल आया. 
 

ट्रेनिंग शुरू, जल्द कर सकते हैं डेब्यू 
मिचेल जॉनसन ने बताया कि वे अगले सप्ताह बारबागेलो रेसवे से रेसिंग की दुनिया में डेब्यू कर सकते हैं. हालांकि, इससे पहले रेसिंग के कई ऐसे तकनीकी पहलू हैं, जिन्हें उन्हें समझना पड़ रहा है. उन्होंने कहा कि कॉर्नर पर कार को टर्न करने से लेकर ब्रेक और गियर का सही इस्तेमाल तक कई ऐसे पहलू हैं, जिनकी प्रैक्टिस जरूरी है. वे अभी इसी की ट्रेनिंग कर रहे हैं. 

एक बार अख्तर से कहा था, मुझे निशाना मत बनाना 
मिचेल जॉनसन ने कहा कि रफ्तार हमेशा रोमांच पैदा करता है. तेज गेंदबाजी भी ऐसी ही है. जॉनसन ने बताया, ‘मैं एक बार क्वींसलैंड के लिए बैटिंग कर रहा था. तभी गेंदबाजी के शोएब अख्तर आए. उन्होंने लंबा रन-अप लिया. मैं थोड़ा डर रहा था. उनकी पहली गेंद फुलटॉस थी और मैंने चौका लगाया. फिर उनके पास गया और बोला कि प्लीज मुझे मत हिट करना.’

एक महीने पहले कहा- अब शरीर साथ नहीं दे रहा
जॉनसन ने अगस्त में क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने की घोषणा की थी. तब उन्होंने कहा कि अब शरीर ने गेंदबाजी में साथ देना बंद कर दिया है. जॉनसन ने कहा, ‘अब सब खत्म हो गया है. मैंने अपनी अंतिम गेंद फेंक दी. अपना अंतिम विकेट ले लिया. आज मैं क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा करता हूं.’ जॉनसन आईपीएल में मुंबई इंडियंस, कोलकाता नाइटराइडर्स और किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेल चुके हैं.