मध्यप्रदेश पुलिस 'वन टच' के ज़रिए जनता को सुरक्षा मुहैया कराने निकली है. दावा ये है कि बस सूचना मिलने की देर है, फिर तो हम पाताल से भी फरियादी को ढूंढ़ निकालेंगे.

दरअसल ख़ासतौर से महिलाओं को बैड टच से बचाने के लिए मध्यप्रदेश सरकार का ये डायल-100 एप है. इसे बस अपने मोबाइल फोन पर डाउनलोड करना होगा. इस हाईटैक एप के ज़रिए मुसीबत की किसी भी घड़ी में फौरन पुलिस को सूचना दी जा सकती है. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर मदद के लिए पहुंच जाएगी.

एप में ऐसा फीचर है कि इसमें बिना बोले ही आपात सूचना देने का विकल्प है. जीपीएस की मदद से पीड़ित व्यक्ति की लाइव लोकेशन की जानकारी मिल जाएगी. विशेष वन टच SOS बटन का ऑप्शन एप में दिया गया है. आम जनता को भाषा को लेकर कोई दिक्कत ना हो, इसलिए एप की जानकारी अंग्रेजी और हिंदी में उपलब्ध है.

'डायल 100' एप ओपन करते ही वो इंटरनेट और जीपीएस से कनेक्ट हो जाता है.एप पर 5 इमरजेंसी कॉन्टेक्ट नंबर सेव कर सकते हैं. SOS क्लिक करते ही मैसेज कॉन्टेक्ट नंबर पर चला जाता है और मैसेज पहुंचते ही आपकी लाइव लोकेशन की जानकारी मिलने लगती है.स्थानीय स्तर पर तैनात पुलिस टीम लाइव लोकेशन के ज़रिए तत्काल मदद पहुंचाती है.

इस एप में एसओएस कॉलिंग, एसएमएस सेंड,लोकेशन ट्रेकर्स जैसे फीचर्स हैं. कॉल न करने की स्थिति में एसएमएस भेजने की सुविधा है.मैसेज टाइप करके भेजने पर सूचनाकर्ता का मैसेज डायल 100 और सेव किए पांच नंबर पर लोकेशन सहित पहुंच जाता है. बस इस एप को अपने मोबाइल फोन पर डाउनलोड करने की देर है.