अटारी-वाघा बॉर्डर पर 15 अगस्त की सुबह 72वां स्वतंत्रता दिवस सेलिब्रेट किया गया। तो शाम को बीटिंग रीट्रीट के मौके पर लोगों का जमावड़ा देखने लायक है। इसमें बीएसएफ के साथ-साथ पाकिस्तान के जवान भी शामिल हैं। वाघा बॉर्डर पर बीएसएफ के अधिकारियों ने पाकिस्तान रेंजर्स को मिठाई भेंट कर स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दीं। अब बीटिंग रीट्रीट की परंपरा में आजादी का जश्न होगा।

सुबह पाकिस्तानी अधिकारियों ने भारत-पाक सीमा पर अपने अधिकार क्षेत्र में ध्वजारोहण किया और परेड का निरीक्षण किया। फिर पाक रेंजरों की एक टीम ने कैप्टन बिलाल खान के नेतृत्व में भारतीय सीमा में प्रवेश किया। जहां बीएसएफ कमांडेंट सुदीप के नेतृत्व में अधिकारियों ने उनका स्वागत किया।

 

पाक रेंजरों ने भारतीय अधिकारियों के लाहौर की मिठाई और कराची का हलवा देकर आजादी की खुशी को साझा किया। इससे पहले सोमवार को एक समझौते के दोनों देशों की तरफ से कैदियों को रिहा किया गया था। इस रिहाई के बाद दोनों देशों के सैन्य अधिकारियों की यह पहली अनौपचारिक मुलाकात थी।

 

बीएसएफ के कमांडेंट सुदीप कुमार ने कहा कि दोनों देशों में यह परंपरा कई साल से चली आ रही है। प्रत्येक भारतीय व पाकिस्तानी पर्व के अवसर पर मिठाई का आदान-प्रदान किया जाता है। यह दोनों देशों के बीच दोस्ताना संबंध कायम करने की दिशा में महज एक प्रयास है।